पत्नी को मायके भेजकर मां की को मार डाला, कमरे में दफनाकर ऊपर से फर्श बना दिया

वाराणसी में सौतेले बेटे ने मां की नृशंस हत्या कर लाश को कमरे में गाड़ दिया।

वराणासी. यूपी के वाराणसी के बजरडीहा इलाके में एक बेटे के हाथों सौतेली माँ की नृशंस हत्या का मामला सामने आया है। घटना को अंजाम देने से पहले ही उसने अपनी पत्नी को मायके भेज दिया। सौतेले भाई बहन को पड़ोस के यहां पहुंचा आया। इसके बाद हत्या की वारदात को अंजाम देकर उसे मकान के अंदर ही दफना दिया और ऊपर से प्लास्टर भी कर दिया ताकि किसी को पता न चले। आखिरकार उसकी गुमशुदगी की खबर पुलिस तक पहुंची और जब कड़ाई से पूछताछ की गई तो उसने सारी घटना पुलिस के सामने खोलकर बता दी। पुलिस ने हत्यारोपी सौतेले बेटे को गिरफ्तार कर लिया और लाश भी बरामद कर ली गई।

 

हत्यारोपी सोनू के पिता अली हुसैन ने तीन शादियां की थीं। दूसरी पत्नी से सोनू और नसीम दो बेटे थे। नसीम मुहल्ले में ही किराए पर घर लेकर अलग रहता था। जबकि सोनू अपने पिता की तीसरी पत्नी यानी सौतेली मां परवीन उसके दो बच्चे अब्दुल माजिद (10) और रुखसार (6) को लेकर अपनी पत्नी और डेढ़ साल के बेटे के साथ दो छोटे कमरों में रहता है। तेलियाना में पंक्चर बनाने की दुकान चलाता है। पुलिस के मुताबिक सोनू जिन दो कमरों में रहता है उसे बेच दिया था और उसे डर था कि अगर सौतेली मां को पता चला तो वो हिस्सा मांगेगी। इसीलिए उसने उसे रास्ते से हटाने की का प्लान बनाया।

 

उसने पहले अपनी पत्नी को मायके भेज दिया और फिर वारदात करने के पहले अपने सौतेले भाई बहनों को पड़ोस में भेज दिया। इसके बाद उसने सौतेली मां परवीन बानो (38) को पहले गला दबाकर मार डाला, फिर कमरे में सात फुट का गड्ढा खोदा और उसमें दफ्न कर दिया। उसमें काफी सारा नमक भी डाल दिया और गड्ढा पाटकर उसपर पक्का फ़र्श बना दिया।

 

कई दिनों तक जब परवीन नहीं दिखी तो आसपास के लोगों को शक हुआ। बड़ी पियरी निवासी परवीन के भाई मोइन को सूचना मिली तो उसने पुलिस से बहन की हत्या की आशंका जतायी। पुलिस ने आरोपी सोनू को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की तो उसने हत्या की बात स्वीकार कर ली। सोनू के की निशानदेही पर तीन घंटे तक खुदाई के बाद शव बरामद कर लिया गया।

Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned