गंगा दशहरा- वाराणसी में घाट-घाट आरती और दूग्धाभिषेक, दीप मालाओं की कड़ियों से जगमग होंगे तट

गंगा दशहरा- वाराणसी में घाट-घाट आरती और दूग्धाभिषेक, दीप मालाओं की कड़ियों से जगमग होंगे तट
गंगा दशहरा पर भव्य आरती (फाइल फोटो)

Ajay Chaturvedi | Updated: 11 Jun 2019, 05:53:05 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

काशी के प्रमुख घाटों पर अलग-अलग होंगे आयोजन
-गंगोत्री सेवा समिति की ओर से 51 लीटर दूध से होगा दुग्धाभिषेक
-रामेश्वर मठ, स्वामी नारायण तीर्थ वेद विद्यालय और जागृति फाउंडेशन की ओर से अस्सी घाट पर होगा दुग्धाभिषेक
- गंगा को चढाई जाएगी आर-पार की माला
-गंगा सेवा निधि दिलाएगी गंगा स्वच्छता का संकल्प
-11 पुजारियों एवं रिद्धी-सिद्धी के रूप में 22 कन्याएं करेंगी विशेष आरती
-हजारों दीप मालाओं की कड़ियों में पिरोयी जाएंगी गंगा

डॉ अजय कृष्ण चतुर्वेदी

वाराणसी. देवाधि देव काशी विश्वनाछ की नगरी काशी में गंगा दशहरा का पर्व बुधवार को पूरी अकीदत से मनाया जाएगा। अलग घाटों पर मां का दुग्धाभिषेक होगा। कुंवारी क्न्याओं की विशेष आरती आकर्षण का केंद्र होगी। वहीं वैदिक ब्राह्मणों द्वारा अलग से परंपरागत तरीके से आरती उतारी जाएगी। मां गंगा को आर-पार की माला चढाई जाएगी। खास आयोजन दशाश्वमेध घाट पर होगा। मान्यता है कि गंगा दशहरा के दिन दशाश्वमेध घाट पर गंगा स्नान से 10 अश्वमेध यज्ञ का लाभ मिलता है। ऐसे में बुधवार की सुबह से ही स्नानार्थियों का रेला गंगा तट की ओर उमड़ पड़ेगा।

मान्यता के अनुसार ज्येष्ठ माह की शुक्ल पक्ष की दशमी को गंगा दशहरा मनाया जाता है। स्कंदपुराण के अनुसार, गंगा दशहरा के दिन व्यक्ति को किसी भी पवित्र नदी में स्नान करना चाहिए। इस दिन ध्यान व दान करना चाहिए। इससे सभी पापों से मुक्ति मिलती है। इस दिन काशी के घाटों पर विविध आयोजन किये जाते है। इस बार यह पावन पर्व बुधवार को पड़ रहा है।

इस संदर्भ में गंगा सेवा निधि के अध्यक्ष सुशांत मिश्र ने पत्रिका को बताया कि संस्था द्वारा चलाये जा रहे अनवरत एक संकल्प गंगा किनारे जिसके माध्यम से दशाश्वमेध घाट पर सभी श्रद्धालुओं को प्रतिदिन यह संकल्प दिलाते हैं कि वो मां गंगा, घाट व सम्पूर्ण भारतवर्ष को स्वच्छ रखेगें। इस अभियान को चार वर्ष पूर्ण हो चुके हैं। गंगा दशहरा के दिन खास तौर पर हम लोगो को शपथ दिलाएंगे। हमें आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि हमारा यह संकल्प अभियान निश्चित ही भारतवर्ष को स्वच्छ रखने में एक अनोखी पहल होगी।

मुख्य अतिथि, कार्यक्रम अध्यक्ष एवं विशिष्ट अतिथियों द्वारा भगवती मां गंगा का वैदिक रीति से पूजन किया जाएगा। भगवती मां गंगा का वैदिक रीति से पूजन गंगा सेवा निधि के 11 पुजारी कराएंगे। इसी क्रम में संस्था के 11 पुजारियों एवं रिद्धी-सिद्धी के रूप में 22 कन्याओं (दुर्गाचरण गल्र्स इंटर कालेज) द्वारा भव्य भगवती मां गंगा की महाआरती होगी। हजारों दीप मालाओं की कड़ियां पिरोयी जाएंगी व घाटों पर फैली दीपों की रोशनी देश-विदेश से आये हजारों सैलानियों के आकर्षण का केंद्र होगा।

 

 

गंगा दशहरा पर भव्य आरती (फाइल फोटो)

उधर गंगोत्री सेवा समिति के सचिव पं. दिनेश शंकर दुबे ने बताया कि तीन दशकों से यह पर्व मनाया जा रहा है। इस दिन संस्था की तरफ से 51 लीटर दूध से मां गंगा का दुग्धाभिषेक होगा। शाम को 11 वैदिक ब्राह्मणों द्वारा महाआरती होगी और उनके पीछे रिद्धि-सिद्धि के रूप में 21 कन्याएं चवंर हिलायेंगी। इसके बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे।

आयोजन में मुख्य अतिथि अजय व्यास ( कार्यकारी निदेशक ) यूको बैंक कोलकता , अध्यक्षता- प्रो राजाराम शुक्ला , कुलपति , सम्पूर्णानद संस्कृत विश्वविद्यालय और सम्मानित अतिथि डॉ दया शंकर मिश्र (राज्य मंत्री , उपाध्यक्ष ,पूर्वांचल विकास बोर्ड ) होंगे। भजन रसधार में विजय शकर वशिष्ट ,अमलेश शुक्ला सहित अन्य गायक कलाकार कन्हैया दुबे के संयोजन में भजनों की प्रस्तुति करेगें।

उन्होंने बताया कि इस दिन की यह मान्यता है की गंगा में दस डुबकी लगाने से सारे पापों से मुक्ति मिलती है। इसी दिन राजा भगीरथ गंगा को धरती पर लाए थे। इस दिन गंगा धरती पर अवतरित हुईं थीं। इस विशेष दिवस को गंगा दशहरा के रूप में मनाया जाता है। इसे हम गंगावतरण के नाम से भी जानते हैं।

गंगा दशहरा पर भव्य आरती (फाइल फोटो)

काशी के प्राचीन अस्सी घाट पर रामेश्वर मठ, स्वामी नारायण तीर्थ वेद विद्यालय एवं जागृति फाउंडेशन के संयुक्त तत्वाधान मे प्रातः 6:00 बजे मां गंगा का दुग्ध अभिषेक किया जाएगा। साथ ही गंगा को आर पार की माला भी चढ़ाई जाएगी।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned