क्या कहते हैं आज आपके सितारे, पढ़िए अपना भाग्य

क्या कहते हैं आज आपके सितारे, पढ़िए अपना भाग्य
horoscope

आज का राशिफल  31 मई 2016

मेष राशि- आज का दिन उत्तरोत्तर विकाश का सूचक है। नौकरी व्यवसाय तथा अन्य कार्यक्षेत्र में  सफलता संभव है। कानूनी मामलों में सावधानी रखें। दूरदर्शितापुर्वक कार्य करने से कार्य पूर्ण होंगे।

वृष राशि- व्यापार- व्यवसाय में अचानक लाभ के योग हैं। शुभ समाचार प्राप्त होंगे। यश- सम्मान प्राप्त होगा।
मिथुन राशि- वाणी में सयंम रखें। व्यवहार कुशल तथा प्रयत्न करने से कार्य बनेगें। 

कर्क राशि- पारिवारिक जीवन संतोषप्रद रहेगा। नौकरी में हालात सुधरेंगे। सुख-साधनों में वृद्धिकारक योग हैं। स्वास्थ्य से सावधान रहें।

सिंह राशि- बहुप्रतीक्षित अभिलाषाओं, इच्छाओं की पूर्ति हो सकेगी। अपने काम से काम रखें। दिनचर्या व्यस्त एवं व्यवस्थित रहेगी

कन्या राशि- मकान की समस्या का समाधान संभव है। हर क्षेत्र में सम्मान मिलेगा। व्यापार में लाभदायी अनुबंध होंगे। अपनी वस्तुओं को संभालकर रखें।

तुला राशि- धन लाभ होगा। संतान की तरक्की से मन प्रसन्न रहेगा। कार्यक्षेत्र में लाभदायक सौदे होंगे। सामाजिक दायरा बढ़ेगा। धार्मिक रुचि बढ़ेगी।

वृश्चिक राशि- आजीविका के क्षेत्र में आपकी योजनाएं सफल होंगी। जीवनसाथी के सहयोग से पारिवारिक समस्याएं हल हो सकेंगी। गुस्से पर काबू रखना होगा।

 धनु राशि- खर्चों में आवश्यकता से अधिक बढ़ोतरी न करें। विवादों से दूर रहें। अधिकारियों से संबंध सुधरेंगे। पारिवारिक सुख में वृद्धि के योग।

मकर राशि- कार्य करने की स्थति में गुणात्मकता आएगी। धन संपत्ति के कामों में प्रबल सफलता मिलने के योग हैं। संबंधियों के साथ घनिष्ठता बढ़ेगी।

 कुंम्भ राशि- भूमि व संपत्ति संबंधी कार्यों में लाभ की संभावना है। व्यापार अच्छा चलेगा। यात्रा सफल होगी। परिवार के सदस्यों की प्रगति होगी।

मीन राशि-  व्यापार में आपकी कल्पना के अनुसार परिणाम आएंगे। भाग्यवश लाभ होगा। खान-पान में अनियमितता से कष्ट हो सकता है

पञ्चाङ्ग

दिन- मंगलवार,३१ मई २०१6
सूर्योदय : ०५:२७
सूर्यास्त : १९:०९
चन्द्रोदय : २६:२२+
चन्द्रास्त : १४:०३
शक सम्वत : १९३८ दुर्मुठ
पक्ष : कृष्ण पक्ष*तिथि : दशमी - २४:३९+ तक
नक्षत्र : उत्तर भाद्रपद - २४:४१+ तक
योग : प्रीति - १४:१६ तक
प्रथम करण : वणिज - १३:५५ तक
द्वितीय करण : विष्टि - २४:३९+ तक
सूर्य राशि : वृषभ
चन्द्र राशि : मीन
*राहुकाल : १५:४४ - १७:२७*
गुलिक काल : १२:१८ - १४:०१
यमगण्ड : ०८:५३ - १०:३६
अभिजीतमुहूर्त : ११:५१ - १२:४६
दूमुहूर्त : ०८:१२ - ०९:०७
दूमुहूर्त : २३:१७ - २३:५८
अमृत काल : २०:१२ - २१:४२
वर्ज्य : ११:१४ - १२:४४

   - ब्रजनंदन जी महाराज
      (आध्यात्मिक गुरु)

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned