टूरिज्म वेलफेयर की अनोखी पहल, पॉलीथिन मुक्त बनारस में पर्यटक भी करेंगे सहयोग

Devesh Singh

Publish: Jul, 13 2018 09:00:02 PM (IST)

Varanasi, Uttar Pradesh, India

टूरिज्म वेलफेयर की अनोखी पहल, पॉलीथिन मुक्त बनारस में पर्यटक भी करेंगे सहयोग

1/5

टूरिज्म वेलफेयर की अनोखी पहल, पॉलीथिन मुक्त बनारस में पर्यटक भी करेंगे सहयोग

वाराणसी. पीएम नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस को पूरी तरह से पॉलीथिन मुक्त करने के लिए टूरिज्म वेलफेयर ने अनोखी पहल शुरू की है। शुकवार को कमिश्रर दीपक अग्रवाल ने टूरिस्ट वाहनों को थैला वितरित करके इस अभियान का आगाज किया है। कार्यक्रम का उद्देश्य पर्यटकों को पॉलीथिन प्रयोग नहीं करने के प्रति जागरूक करना है जब पर्यटन वाहन पर पॉलीथिन की जगह थैला मिलेगा तो पर्यटक भी इस मुहिम में अपना सहयोग करेंगे।
यह भी पढ़े:-CCTV footage: चलते-चलते अचानक पलट गयी कार, मचा हड़कंप

सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश को पॉलीथिन मुक्त करने का संकल्प लिया है। इसके तहत 15 जुलाई से विभिन्न चरणों में पॉलीथिन बैन करने का बड़ा अभियान चलेगा। बनारस में प्रदूषण का एक बड़ा कारण पॉलीथिन है। शहर के लोगों को पॉलीथिन प्रयोग नहीं करने के प्रति जागरूक करने के लिए प्रतिदिन विभिन्न संस्थाएं अभियान चला रही है। विश्व की सबसे प्राचीनतम नगरी में देशी व विदेशी पर्यटक भी आते हैं यदि उन्हें पॉलीथिन प्रयोग के प्रति जागरूक नहीं किया जायेगा तो अभियान पूर्ण रुप से सफल नहीं हो पायेगा। टूरिज्म वेलफेयर एसोसिएशन ने इसी मुहिम की शुरूआत की है। वाराणस विकास समिति व टूरिज्म वेलफेयर एसोसिएशन की संयुक्त मुहिम के तहत टूरिस्ट वाहनों को कपड़े के थैले बंाटे गये हैं। वाराणसी विकास समिति के अध्यक्ष आरके चौधरी ने कमिश्रर दीपक अग्रवाल के साथ वरुणापुल पर इस अभियान का श्रीगणेश किया है। टूरिज्म वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष राहुल मेहता ने कहा कि कुल ५०० कपड़े के थैले वितरित किये जायेंगे। पहले दिन १०० थैलों का वितरण किया गया है। उन्होंने कहा कि बनारस को पॉलीथिन मुक्त करने का अभियान चलाया जा रहा है यह बात देशी व विदेशी पर्यटकों को पता नहीं होती है जब वह शहर में आते हैं तो उनके द्वारा पॉलीथिन उपयोग करने की संभावना बढ़ सकती है। पर्यटक वाहन में पानी व अन्य चीजों के साथ अब कपड़े का थैला भी रहेगा। पर्यटक वाहन चालक आश्वयकता पडऩे पर टूरिस्ट को कपड़े का थैला उपयोग करने को देगा। साथ ही उनसे मूल निवास स्थान पर भी पॉलीथिन प्रयोग नहीं करने की अपील करेगा। हम लोगों को विश्वास है कि सभी की मेहनत से एक दिन काशी पॉलीथिन मुक्त हो जायेगा। इस अवसर यूपी टूरिज्म के संयुुक्त निदेशक अविनाश चंद्र मिश्रा, जय शंकर मेहता, यू आर सिंह, पंकज सिंह, रामाज्ञा मिश्रा आदि लोग उपस्थित थे।
यह भी पढ़े:-मुन्ना बजरंगी की मौत के बाद पहली बार खुलेगा यह राज, पुलिस प्रशासन में भी मचा हड़कंप

Ad Block is Banned