पीएम मोदी को करना था जिस एसटीपी का उद्घाटन, उससे जुडऩे वाले मेनहोल में उतरे दो मजदूरों की मौत, मचा हड़कंप

पीएम मोदी को करना था जिस एसटीपी का उद्घाटन, उससे जुडऩे वाले मेनहोल में उतरे दो मजदूरों की मौत, मचा हड़कंप

Devesh Singh | Publish: Nov, 10 2018 04:52:20 PM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

चेतगंज पुलिस ने प्रोजेक्ट मैनेजर को लिया हिरासत में, बिना किसी सुरक्षा उपकरण के मजदूरों को मैनहोल में उतारा गया था

वाराणसी. पीएम नरेन्द्र मोदी 12 नवम्बर को जिस एसटीपी प्लांट का उद्घाटन करना है उससे जुडऩे वाली सीवर लाइन के मेनहोल में उतरने से दो मजदूरों की मौत हो गयी। सूचना मिलते ही जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया। मौके पर पहुंची एनडीआरएफ की टीम ने एक मजदूर का शिव निकाल लिया है और दूसरे की बॉडी निकालने में जुट गयी है। चेतगंज पुलिस ने बिना सुरक्षा उपकरणों के मेनहोल में मजदूरों को उतराने के आरोप में प्रोजेक्ट मैनेजर पंकज श्रीवास्तव को हिरासत में ले लिया है। मौके पर भारी फोर्स पहुंच गयी है और अफरातफरी का माहौल कायम है। मृतक रिश्ते में चाचा व भतीजा थे।

यह भी पढ़े:-अखिलेश यादव ने भगवा पगड़ी बांध कर बीजेपी को दिया तगड़ा झटका, उमड़ी इतनी भीड़ की शिवपाल यादव की उड़ जायेगी नीद

पीएम नरेन्द्र मोदी 12 नवम्बर को दीनापुर एसटीपी का उद्घाटन करने वाले हैं। इस एसटीपी में शहर की कई सीवर लाइन जोड़ी जा रही है ताकि एसटीपी से शोधन के बाद इस जल का उपयोग खेती में किया जा सके। चौकाघाट स्थिति पंपिंग स्टेशन से लिक अप मेनहोल को जोड़ा गया है जहां से वरुणा में गिरने वाला सीवर का पानी दीनापुर एसटीपी में भेजा जाना है। शनिवार को इसी मेनहोल की मरम्मत करने के लिए आधा दर्जन मजदूरों को बिना सुरक्षा उपकरणों के सीवर के अंदर उतार गया था। सीवर की जहरीली गैस की चपेट में आकर एक मजदूतर गिर गया। मजदूर को बचाने के लिए दूसरा मजदूर भी सीवर में अंदर गया और गैस की चपेट में आकर सीवर में समा गया। बचे हुए अन्य मजदूर बाहर निकल कर इसकी जानकारी कार्यदायी संस्था के प्रतिनिधियों को दी। इसके बाद पुलिस को सूचना हुई और एनडीआरएफ की टीम भी मौके पर पहुंची। एनडीआरएफ की टीम ने एक मजदूर की शव निकाल लिया है जबकि दूसरे के शव की तलाश की जा रही है।
यह भी पढ़े:-अखिलेश यादव ने दी है तीन चुनौती, सीएम योगी आदित्यनाथ दे पायेंगे जवाब

बिहार के है दोनों मृत मजदूर
जहरीली गैस की चपेट में आकर बिहार के दोनों मृत मजदूर किवास पासवान व दिनेश पासवान है। दोनों ही मकान निर्माण का काम करते हैं लेकिन ठेकेदरों ने अधिक पैसे की लालच देकर उन्हें बिना किसी सुरक्षा उपकरणों के ही मेनहोल में उतार दिया था जिसके चलते यह हादसा हो गया।
यह भी पढ़े:-चाची को नहाते देख कर बिगड़ गयी थी नीयत, रेप करने के बाद की हत्या, पति को जाकर सबसे पहले दी सूचना

12 नवम्बर को पहले सीवर लाइन जोडऩे की थी कवायद
पीएम नरेन्द्र मोदी 12 नवम्बर को एसटीपी का उद्घाटन करने वाले थे जिसके चलते काम की रफ्तार तेज की गयी थी। जल निगम की गंगा प्रदूषण नियंत्रण इकाई को सीवर लाइन को एसटीपी से जोडऩे की जिम्मेदारी मिली है। चौकाघाट पर ही साढ़े तीन करोड़ की लागत से वरुणा में गिरने वाले सीवर को एसटीपी से जोड़ा जा रहा था शहर में ऐसे तीन जगहों पर निर्माण चल रहा है।
यह भी पढ़े:-बदला लेने के लिए मदरसे में की चोरी, लोहता पुलिस ने किया गिरफ्तार

Ad Block is Banned