काशी में एक साल में अंडरग्राउंड होंगे बिजली के तार

काशी में एक साल में अंडरग्राउंड होंगे बिजली के तार
piyush goyal

आईपीडीएस के कार्य पर निगरानी के लिए मोबाइल एप लॉन्च

वाराणसी. इंटीग्रेटेड पावर डेवलपमेंट स्कीम के तहत एक साल में काशी में बिजली के तारों को भूमिगत कर दिया जाएगा। केंद्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री पीयूष गोयल ने कबीरनगर में बिजली के तारों के भूमिगत करने के कार्य का भूमिपूजन करने के इस बात की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इंटीग्रेटेड पावर डेवलपमेंट स्कीम के कार्य पर निगरानी रखी जाएगी। कार्य पर मोबाइल एप के जरिए निगरानी रखी जाएगी। 

इस योजना के तहत दो नए उपकेंद्रों का निर्माण, 11 उपकेंद्रों की क्षमता वृद्धि और 500 किलोमीटर के तहत भूमि केबलिंग का कार्य होना है। गोयल ने कहा कि सूबे में बिजली की कमी है और राज्य सरकार बिजली नहीं खरीद रही है। उन्होंने कहा कि दीनदयाल ग्राम ज्योति विकास योजना के तहत केंद्र ने राज्य सरकार को 12500 करोड़ रूपया दिया था और अब तक दो साल में मात्र तीन गांव में ही विद्युतीकरण का काम हुआ था। 

मोबाइल एप की लॉचिंग के बाद पांच लोगों की एलईडी बल्ब के साथ 50 वाट के साथ पांच पंखे बांटे भी गए। प्रदेश में एक करोड़वां एलईडी बल्ब विभाग के एमडी एके सिंह को दिया गया। मंत्री ने लोगों को बिजली के प्रति जागरुकता लाने की बात कही। कार्यक्रम में मेयर रामगोपाल मोहले, बीजेपी के कई विधायक, कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण सहित कई उपस्थित थे। 
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned