up board result जरा ठहरिए, आपके बच्चे का आज रिजल्ट आया क्या

up board result जरा ठहरिए, आपके बच्चे का आज रिजल्ट आया क्या
don's shout your child

याद रखिए रिजल्ट बच्चे की प्रतिभा का आकलन नहीं, माता-पिता आज दोस्त बनकर रहें अपने बच्चों के संगखराब रिजल्ट आने पर डांट-फटकार के बजाए प्रोत्साहित करें नए सिरे से तैयारी करने को

वाराणसी
क्या आपका बच्चा भी हाईस्कूल या इंटर का छात्र है। आज उसका परीक्षा परिणाम आया है तो यह खबर आपके लिए हैं। उत्तर प्रदेश बोर्ड के हाईस्कूल और इंटरमीडिएट का परिणाम आ चुका है। किसी घर में खुशियों के लड्डू बंट रहे होंगे तो कई अपने कमरे में उदास बैठा होगा क्योंकि उसका रिजल्ट खराब आया। 
यदि आपके बच्चे के नंबर भी खराब आए हैं या फिर वह परीक्षा में फेल हो गया है तो आवेश में न आए। पहले तो आप उसके परिणाम को सहर्ष स्वीकार करें। सब्र से काम लें, समाज की चिंता छोडि़ए इस समय सबसे अधिक जरूरत आपके बच्चे को आपकी है। आपकी मुंह से निकले कड़वे शब्द उसे अवसाद में डाल सकते हैं, वह कोई आत्मघाती कदम भी उठा सकता है लेकिन यदि आज आपने उसके सिर पर प्यार से हाथ फेरते हुए उसे और मेहनत करने को कहा तो यकीन मानिए आपका बच्चा अपनी गलतियों से सबक लेते हुए अगले वर्ष आपकी उम्मीद से बेहतर रिजल्ट देगा।
दरअसल, परीक्षा रिजल्ट आने के बाद फेल और कम अंक पाए बच्चों पर परिवार वालों के ऐसे शब्द बाण चलते हैं कि वह अवसाद में चला जाता है। ग्लानि में कभी-कभी छात्र-छात्राएं गलत कदम उठाकर अपनी जान गंवा देते हैं। राघव राम वर्मा बालिका इंटर कालेज की प्रधानाचार्य सुमन सिंह का कहना है कि अभिभावकों को चाहिए कि वे बच्चों पर अपनी अपेक्षाओं का बोझ न डालें। उनका परिणाम चाहे जैसा आया हो, इस समय सबसे अधिक जरूरत उन्हें अपने माता-पिता की है। वह माता-पिता जो उन्हें दोस्त की तरह हिम्मत दे सके।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned