बाहुबली राजा भइया, मोख्तार अंसारी और विजय मिश्रा को मोदी लहर भी नहीं हरा पायी

Varanasi, Uttar Pradesh, India
बाहुबली राजा भइया, मोख्तार अंसारी और विजय मिश्रा को मोदी लहर भी नहीं हरा पायी

मोख्तार अंसारी बसपा, विजय मिश्रा निषाद व राजा भइया ने निर्दल जीता चुनाव। मोदी लहर का नहीं हुआ कोई असर।

MR FARIDI

वाराणसी. उत्तर प्रदेश के 2017 का चुनाव इसलिये भी याद किया जाएगा, क्योंकि इस इलेक्शन में तकरीबन सभी पार्टियों ने यूपी और खासतौर से पूर्वांचल के बाहुबलियों को हराने में पूरा दम लगा दिया था। एकाध नाम को छोड़ दें तो तकरीबन लोग ये दावा कर रहे थे कि इस बार बाहुबलियों की जीत मुश्किल है। खुद नरेन्द्र मोदी ने मंच से कहा था कि हम जीते तो बाहुबलियों को एक मिनट में ठीक कर देंगे। पर जब नतीजे आए तो धनंजय सिंह व विनीत सिंह को छोड़ दें तो बाकी सभी बाहुबलियों ने जीतकर यह साबित कर दिया है कि वह कितने लोकप्रिय हैं। हालांकि शुरू में रुझान जो आए उसमें कुछ बाहुबली पीछे दिखे पर धीरे-धीरे वह अंतर बनाते गए और परिणाम आया तो उन्हें जीत मिली। उनकी जीत के बाद राजनीतिक पण्डितों को भी यह मानने में गुरेज नहीं कि मोदी लहर का बाहुबलियों की इमेज और लोकप्रियता पर कोई असर नहीं।


बाहुबलियों में सबसे पहला नाम आता है राजा भइया का। राजा भइया वह नाम है जो हमेशा अपने दम पर चुनाव जीते। उन्होंने कभी किसी पार्टी का सहारा नहीं लिया। 1993 में वह पहली बार राजनीति में कूदे और प्रतापगढ़ की कुण्डा सीट से 1993 में पहला चुनाव जीते। इसके बाद उन्होंने मुड़कर नहीं देखा। कभी जीत का अन्तर कम नहीं हुआ। इस बार वह अब तक के सबसे बड़े अन्तर 1,03,647 वोटों से जीते। राजा भइया ने जहां 1,36,597 वोट पाए वहीं दूसरे नंबर पर रहे बीजेपी के प्रत्याशी जानकी शरण को 32,950 वोट मिले।

UP election 2017 result Mau Sadar

दूसरा नाम आता है बीजेपी के विधायक स्व. कृष्णानन्द राय की हत्या समेत दर्जनों  मोख्तार अंसारी का जिन जिनपर बीजेपी के विधायक स्व. कृष्णानंद राय की हत्या समेत दर्जनों मुकदमे हैं। वह मऊ से लगातार चैथी बार चुनाव जीते हैं। इस बार उनके सामने कड़ा मुकाबला था। सपा ने पिछले बार के रनर अप रहे अल्ताफ अंसारी को उतारा था जो इस बार तीसरे नंबर पर रहे, जबकि बीजेपी के सहयोगी दल भासपा के महेन्द्र चैहान जिन्हें मोदी ने बाहुबली को मारने वाले कटप्पा का नाम दिया था वह भी मोदी लहर के चलते मजबूती से लड़े और दूसरे नंबर पर रहे। महेन्द्र राजभर ने 88,095, जबकि अल्ताफ अंसारी ने 72,016 वोट पाए। पीएम नरेन्द्र मोदी ने मऊ की जनसभा में बिना नाम लिये मोख्तार केा संदेश भिजवाया था कि वो जेल को असल मायनों में जेल बना देंगे। उन्होंने सपा सरकार पर तंज किया था कि बाहुबलियों को जेल में मौज करयी जाती है और जेल जाते समय वह हंसते रहते हैं।


बाहुबली विजय मिश्रा जिन्हें अखिलेश यादव ने पहले पार्टी से निकाला और उसके बाद भरे मंच से उन्हें हराने की अपील तक कर दी। उनके खिलाफ अखिलेश ही नहीं डिम्पल यादव ने कई रैलियां कीं। बावजूद इसके उनको हराने में नाकामयाब रहे। यही नहीं पीएम नरेन्द्र मोदी की लहर का भी विजय मिश्रा पर कोई असर नहीं हुआ। बाहुबली विजय मिश्रा निषाद जैसे छोटे दल के बैनर पर आए और अपने दम पर चुनाव जीत गए। उनकी जीत ने सबको चैंका दिया। अपने चुनावी अभियान के दौरान अखिलेश ने मंच से विजय मिश्रा पर निशाना भी साधा था। यहां तक कि मंच से यह कहने पर कि पैसे ले लेना पर वोट सपा को ही देना वाले बयान पर चुनाव अयोग ने नोटिस भी थमा दिया।

UP election 2017 result Saiyadraja

बाहुबली सुशील सिंह पहले से विधायक थे। इस बार उनका मुकाबला कड़ा था। पर मोदी लहर ने उन्हें जीत में मदद की। बीजेपी टिकट पर वह सैय्यदराजा से वीनीत सिंह के मुकाबले में थे। यहां से उनके सामने रिश्तेदार और माफिया से माननीय बने बृजेश सिंह को हराने वाले सपा विधायक मनोज सिंह डब्ल्यू भी मजबूत उम्मीदवार थे। बावजूद इसके उन्होंने जीत दर्ज की। यहां सुशील सिंह ने 14,494 वोटों से बसपा के बाहुबली उम्मीदवार विनीत सिंह को हरा दिया।

UP election 2017 result Gyanpur
इन बाहुबलियों की किस्मत रही खराब
जौनपुर की मल्हनी सीट पर बाहुबली धनंजय सिंह व विनीत सिंह की किस्मत खराब रही। वह मोदी लहर के शिकार हो गए और उनकी जीत हार में बदल गयी। दोनों ही बाहुबली अपनी सीट पर दूसरे नंबर पर रहे। धनंजय सिंह जौनपुर की मल्हनी सीट से सपा के दिग्गज मंत्री पारसनाथ यादव से 21,160 वोटों से हार गए। धनंजय सिंह ने 48,191 वोट पाए, जबकि पारसनाथ यादव ने 89,351 वोट पाकर जीते। इसी तरह बसपा के बाहुबली श्याम नारायण सिंह विनीत सिंह सुशील सिंह से 14,494 वोटों से हार गए। सुशील सिंह ने जहां 78,869 जबकि विनीत सिंह ने 64,375 वोट हासिल किये। दोनों बाहुबली त्रिकोणीय लड़ाई के चलते हारे।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned