Breaking पुलिसकर्मियों व प्रशासनिक अधिकारियों की छुट्टियां रद

Breaking पुलिसकर्मियों व प्रशासनिक अधिकारियों की छुट्टियां रद
up police

हाई अलर्ट पर उत्तर प्रदेश, मुख्यालय न छोडऩे का आदेश

वाराणसी. भारतीय सेना की सर्जिकल स्ट्राइक के बाद देश के विभिन्न हिस्सों में आतंकी वारदात की आशंका बढ़ गई है। सबसे अधिक खतरा उत्तर प्रदेश में हैं। गृह मंत्रालय ने भी उत्तर प्रदेश के प्रमुख शहरों में आतंकी हमलों की आशंका जताई है। खुफिया एजेंसियों के इनपुट के बाद उत्तर प्रदेश सरकार भी सतर्क हो गई है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उच्चस्तरीय बैठक के बाद प्रदेश के सभी पुलिसकर्मियों, प्रशासनिक अधिकारियों के अवकाश को रद करने की घोषणा के साथ ही मुख्यालय न छोडऩे का आदेश दिया है। इतना ही नहीं वर्तमान में पुलिसकर्मियों को मिल रहे वीकली ऑफ को भी रद कर दिया गया है। वाराणसी समेत प्रदेश के सभी जिलों को इस समय धारा 144 में बांध दिया गया है। सुरक्षा-व्यवस्था के मद्देनजर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का यह फरमान फिलहाल मोहर्रम तक जारी रहेगा। मोहर्रम के बाद कानून-व्यवस्था की समीक्षा और हालात को मद्देनजर रखते हुए निर्णय लिया जाएगा। 

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने नवरात्रि, दशहरा पर खास सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। नवरात्रि पर भक्तों का हुजूम सड़कों पर होता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी का नजारा मिनी कोलकाता सा नजर आता है। यहां लाखों की संख्या में श्रद्धालु रात में  पंडालों में सजी प्रतिमाओं के दर्शन-पूजन को निकलते हैं। ऐसे में मुख्यमंत्री ने वाराणसी, आगरा, लखनऊ समेत अन्य संवेदनशील जिलों में खास सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। सीएम ने चेतावनी दी है कि जिलों में तैनात अधिकारी सुरक्षा एजेंसियों के साथ समन्वय स्थापित करके कानून-व्यवस्था मजबूत करें, यदि अधिकारियों की लापरवाही के चलते कोई अप्रिय घटना होती है तो कार्रवाई तय है। मुख्यमंत्री ने खुफिया एजेंसियों द्वारा दी जा रही प्रत्येक सूचना को गंभीरता से लेते हुए उसपर अमल करने को कहा है। 

सर्जिकल स्ट्राइक के बाद काशी में सुरक्षा-व्यवस्था को लेकर अधिकारी लगातार समीक्षा के साथ सुधार में लगे हैं। संकट मोचन मंदिर जहां सात मार्च 2006 को आतंकियों ने विस्फोट किया था, दोबारा हमले की आशंका पर पुलिस ने मंदिर परिसर में किसी अप्रिय घटना से निबटने के लिए बंकर बनाया है। नवरात्रि पर उमडऩे वाली भीड़ का फायदा उठाकर कोई गड़बड़ी न करें, इसके लिए ड्रोन कैमरे से निगरानी की व्यवस्था की जा रही है। सुबह से लेकर देर रात तक प्रमुख मार्गों पर वाहनों की चेकिंग कराई जा रही है। रेलवे-बस स्टेशन से लेकर होटलों में लगातार चेकिंग चल रही है। एसएसपी आकाश कुलहरि स्वयं चेकिंग के लिए मातहतों के साथ निकल रहे हैं। 


Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned