BREAKIN NEWS गोरखपुर में लूटा था आसाम से आई चायपत्ती से भरा ट्रक

अंतर प्रांतीय गैंग के चार लुटेरों को वाराणसी क्राइम ब्रांच ने दबोचालूट का ट्रक, 30लाख की चाय पत्ती ,घटना में प्रयुक्त स्कार्पियो, बाइक और असलहे बरामद

वाराणसी. आसाम से चायपत्ती लेकर गोरखपुर जा रहे ट्रक को लूटने वाले अंतरप्रांतीय गिरोह के चार लुटेरे वाराणसी क्राइम ब्रांच के हाथ लग गए जब लूट के माल को बनारस में बेचने की फ़िराक से चारों बनारस पहुंचे।
सटीक सूचना पर लंका थाना क्षेत्र के नुआव इलाके में छापेमारी कर क्राइम ब्रांच व लंका पुलिस ने देर रात 4 लुटेरों को गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से लूट की 15 टन चायपत्ती जिसकी कीमत 30लाख व गोरखपुर से लूटी गयी ट्रक तथा घटना में प्रयुक्त स्कार्पियो-दो पल्सर बाइक  9एम एम पिस्टल ,38बोर रिवाल्वर , कारतूस बरामद हुए। एसएसपी आकाश कुलहरि ने पुलिस लाईन में सोमवार को अपराधियों को मीडिया के समक्ष प्रस्तुत किया। उन्होने बताया की आसाम से चाय लादकर ट्रक चालक वाराणसी की ओर आ रहा था । 
भनक लगते ही गोरखपुर में 6 लुटेरों ने चालक खलासी को अगवा कर ट्रक लूट लिया। बदमाशों ने बिहार के सासाराम में चालक को फेंक दिया और फरार हो गए। मुखबिर की सूचना पर बीती रात लंका के नुआव इलाके में क्राइम ब्रांच प्रभारी विजय प्रताप सिंह ,ओम नारायण सिंह आदि नाकेबंदी कर वाहनों की चेकिंग कर रहे थे। इस बीच अचानक रोके गये स्कर्पियो व बाइक सवार बदमाश पुलिस पर फायरिंग करने लगे। पुलिस ने अपनी सुरक्षा करते हुए मुठभेड़ के बाद पल्हनी आजमगढ़ निवासी संजय यादव उर्फ संचम , अलीनगर चन्दौली निवासी क्रमशः रवि कान्त यादव ,रामचंद्र सोनकर ,सादात गाजीपुर निवासी सुनील यादव ,को गिरफ्तार कर लिया। 
पांच हजार इनामी है संजय
पुलिस के अनुसार लूट के ही एक मामले में संजय पर गाजीपुर में पांच हजार का इनाम है। मुठभेड़ के दौरान मौके से जहानागंज आजमगढ़ निवासी सोनू चौबे ,करिसा आजमगढ़ निवासी धर्मेन्द्र यादव फरार हो गये। एसएसपी ने बताया कि गाजीपुर जेल में बंद मनोज उर्फ़ बाबा गिरोह का सरगना है। बाबा सरिया के कारोबार से जुड़ा है। बीते दिनों इस गैंग ने मऊ और गाजीपुर में लोहे की सरिया से लदे ट्रक लूट लिए थे। लूट के माल को बाबा अपनी दुकान के जरिये ग्राहकों को बेच देता था।

स्कार्पियो से रोकते थे
पूछताछ में पता चला है कि ट्रक लूटेरे वारदात को अंजाम देने के लिए suv का प्रयोग करते थे ताकि ट्रक चालक को कोई शक न हो और वह गाड़ी रोक दे। गाड़ी के रूकते ही बदमाश चालक और खलासी को अपने कब्जे में लेते और सुनसान रास्ते पर छोड़ कर फरार हो जाते थे। बदमाशों ने चंदौली के एक शक्श की स्कार्पियो के चालक रामचंद्र सोनकर को भी गैंग में शामिल कर लिया था। गिरफ्तार बदमाशों में रामचंद्र भी है। अंतरप्रांतीय गिरोह के लूटेरों की गिरफ्तारी करने वाली टीम में  क्राइम ब्रांच प्रभारी अतुल नारायण सिंह , विजय प्रताप सिंह ,ओम नारायण सिंह ,राकेश सिंह ,आरक्षी तेज प्रताप ,राम भवन ,सुमन्त सिंह थाना प्रभारी लंका संजीव कुमार मिश्रा समेत अन्य पुलिसकर्मी शामिल रहे। आईजी की ओर से टीम को 5 हजार का इनाम दिया गया है।

Show More
Vikas Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned