घर से भागे प्रेमी जोड़े की पुलिस ने कराई शादी

घर से भागे प्रेमी जोड़े की पुलिस ने कराई शादी
married

पहले प्रेमिका के परिजन थे नाराज लेकिन ऐसा क्या हुआ जो मान गए


वाराणसी. यूं तो पुलिस घर से भागे प्रेमियों को पकडऩे, अपहरण का मुकदमा, बरामदगी में उलझी रहती है लेकिन बनारस पुलिस ने शनिवार को एक प्रेमी जोड़े को शादी के सात फेरों में बांध दिया। प्रेमी जोड़ा भी पुलिस की भूमिका से काफी प्रसन्न नजर आया। पुलिस ने चौकी के बगल में स्थित मंदिर में दोनों पक्षों की मौजूदगी में पहले शादी कराई और फिर उन्हें कोर्ट मैरिज के लिए कचहरी भेजा। 

काशी के मंडुआडीह थाना क्षेत्र में कंचनपुर गांव की एक युवती के इसी थाना क्षेत्र के कंदवा गांव के एक युवक से प्यार हो गया था। घरवालों को जब इसकी जानकारी हुई तो युवती पर पहरा बैठ गया। प्यार के बंधन में बंध चुके प्रेमी युगल को पहरेदारी रास नहीं आई और बीते 26 जून को दोनों घर से फरार हो गए। दोनों बिहार में रह रहे थे। इधर युवती के परिजन पुलिस कप्तान के पास पहुंचे और युवक पर अपनी बेटी के अपहरण का आरोप लगाया। 

अपहरण की बात आने पर कप्तान ने डीरेका चौकी प्रभारी को कार्रवाई का आदेश दिया। चौकी प्रभारी के दबाव बनाने पर युवक अपनी प्रेमिका व बहन को लेकर शनिवार सुबह डीरेका चौकी पहुंचा। युवती ने चौकी प्रभारी को बताया कि उसका अपहरण नहीं हुआ था बल्कि वह अपनी मर्जी से अपने प्रेमी के साथ गई थी। दोनों के बालिग होने और युवती के बयान से पुलिस युवक के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर सकी।

इस बीच प्रेमी जोड़े के माता-पिता भी चौकी पर आ गए। दो घंटे की पंचायत के बाद आखिरकार दोनों के माता-पिता शादी को राजी हो गए। चौकी प्रभारी ने भी बिना देरी किए चौकी के बगल में मौजूद मंदिर पहुंचे और वैदिक मंत्रोच्चार के बीच दोनों की शादी कराई। वैवाहिक रस्म पूरी होने के बाद दोनों को परिजनों के साथ कचहरी भेजा कोर्ट मैरिज के लिए ताकि भविष्य में कोई परेशानी न हो। 
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned