scriptVasantik Navratri 2022 first day Worshiping Mukha Nirmalika Gauri and Maa Shailputri and seeking blessings | वासंतिक नवरात्र प्रथम दिनः मुखनिर्मालिका गौरी और मां शैलपुत्री का पूजन कर भक्तों ने मांगा आशीष | Patrika News

वासंतिक नवरात्र प्रथम दिनः मुखनिर्मालिका गौरी और मां शैलपुत्री का पूजन कर भक्तों ने मांगा आशीष

चैत्र शुक्ल पक्ष प्रतिपदा तिथि शनिवार से वासंतिक नवरात्र का आरंभ हुआ। पहले दिन पुरातन धार्मिक मान्यता के अनुसार देवी भक्तों ने मां मुखनिर्मालिका गौरी का सविधि दर्शन-पूजन कर मां से सर्व मंगल की कामना की। इस दिन विशेष को शक्ति के उपासकों का रैला मां शैलपुत्री के मंदिर में लगा। सविधि मां का पूजन कर मंगल कामना की गई। शिव की नगरी काशी में आज से नौ दिनों तक मां भगवती के पूजन का क्रम आरंभ हो गया।

वाराणसी

Published: April 02, 2022 01:20:12 pm

वाराणसी. वासंतिक नवरात्र जिसे चैत्र नवरात्र भी कहते हैं के पहले दिन शिव की नगरी काशी में मां भगवती की अभ्यर्थना को देवी मंदिरों में सैलाब उमड़ पड़ा। गत वर्ष इस वासंतिक नवरात्र के पहले दिन से ही कोरोना संक्रमण जैसी महामारी का प्रसार हुआ था। ऐसे में तब बहुतेरे लोग मंदिरों में नही जा सके थे। लेकिन इस बार कोरोना संक्रमण का प्रभाव तकरीबन खत्म हो चुका है, तो देवी भक्त भोर से माता रानी के दरबार में कतारबद्ध हो गए। प्राचीन मान्यता के अनुसार वासंतिक नवरात्र में नौ गौरियों का पूजन होता है तो देवी बक्तों का रेला मुख निर्मालिका गौरी के मंदिर में लगा। हालांकि शक्ति के उपासक मां शैलपुत्री के दर्शन-पूजन को भी उमड़े।
मां मुख निर्मालिका गौरी
मां मुख निर्मालिका गौरी
मां शैलपुत्री देवीमुंह अंधेरे से देवी मंदिरों में लगी भक्तो की कतार, मुखनिर्मालिक गौरी के दर्शन को उमड़े श्रद्धालु

आलम ये कि मुंह अधेरे से ही देवी दरबारों में दर्शन को भक्तों की लंबी कतार लग गई। चैत्र नवरात्र में गौरी व मां दुर्गा के 9 रुपों का दर्शन किया जाता है। वासंतिक नवरात्र के पहले दिन मां गौरी के रुप में प्रथम मुखनिर्मालिका गौरी के दर्शन का विधान है। काशी के गायघाट स्थित हनुमान मंदिर में भी सुबह से ही भक्तों की लाइन लगी रही। गायघाट क्षेत्र स्थित एक हनुमान मंदिर में मुखनिर्मालिका गौरी के विग्रह का ब्रह्म मुहूर्त में मंगला आरती के बाद पट खोल दिया गया। इसके साथ ही भक्तों कतार दर्शन को लग गई। भक्त माता को नारियल, चुनरी, भोग, प्रसाद, और सिंगार का सामान अर्पित करके शीश नवाते रहे।
वहीं दूसरी ओर शक्ति स्वरूपा मां शैलपुत्री के दरबार में भी भक्तों की भारी भीड़ जमा हुई। अलईपुरा स्थित माता शैलपुत्री के दरबार में भी भक्तों की कतार भोर से ही लग गई। यहां पुसिल प्रशासन ने सुरक्षा के खास बंदोबस्त किए हैं। मां के दर्शन को भक्तो का जो क्रम सुबह से शुरू हुआ वो देर रात तक जारी रहेगा।
ये भी पढें- काशी में गंगा तट पर सूर्योपासना और मां गंगा को वंदन कर नव संवत्सर 2079 का अभिनंदन

घरों में सविधि कलश स्थापन के साथ शुरू हुआ श्री दुर्गा सप्तशती पाठ

उधर देवी भक्तों ने घरो में कलश की स्थापना कर मां का आवहन किया। देवी के आवाहन के पश्चात श्री दुर्गासप्तशती का पाठ आरंभ हुआ। ज्यादातर भक्तों ने इसके लिए ब्राह्मणों, पुरोहितों या बटुकों को आमंत्रित कर देवी पाठ शुरू कराया तो अधिकांश गृहस्थों ने खुद ही माता रानी के आवाहन के साथ दुर्गासप्तशती का पाठ शुरू किया। इसके चलते चारों ओर धूप-दीप और लोहबान की सुगंध फैल गई। उधर पंजाबी परिवारों में माता की चौकी सजाई गई।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट से मंदिर-मस्जिद के सबूतों का नया अध्याय, एक्सक्लूसिव रिपोर्ट सिर्फ पत्रिका के पास, जानें क्या है इन सर्वे रिपोर्ट में...दिल्ली हाई कोर्ट से AAP सरकार को झटका, डोर स्टेप राशन डिलीवरी योजना पर लगाई रोकसुप्रीम कोर्ट का फैसला: रोड रेज केस में Navjot Singh Sidhu को एक साल जेल की सजा, जानें कांग्रेस नेता ने क्या दी प्रतिक्रियाGST पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, जीएसटी काउंसिल की सिफारिश मानने के लिए बाध्य नहीं सरकारेंIPL 2022 RCB vs GT live Updates: गुजरात ने बेंगलुरु को दिया जीत के लिए 169 रनों का लक्ष्य6 साल की बच्ची बनी AIIMS की सबसे कम उम्र की ऑर्गन डोनर; 5 लोगों को दिया नया जीवनGyanvapi Masjid-Shringar Gauri Case: सुप्रीम कोर्ट में 20 मई और वाराणसी सिविल कोर्ट में 23 मई को होगी सुनवाईपंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ BJP में शामिल, दिल्ली में जेपी नड्डा ने दिलाई पार्टी की सदस्यता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.