scriptVishwa Hindu Sena President Arun Pathak and his family received death threats | विश्व हिंदू सेना के अध्यक्ष अरुण पाठक और उनके परिवार को मिली जान से मारने की धमकी | Patrika News

विश्व हिंदू सेना के अध्यक्ष अरुण पाठक और उनके परिवार को मिली जान से मारने की धमकी

विश्व हिंदू सेना के अध्यक्ष अरुण पाठक और उनके परिवार को जान से मारने की धमकी मिली है। सियालदह के पते से भेजे गए रजिस्टर्ड पत्र के माध्यम से ये धमकी दी गई है। पत्र में दारुल इस्लाम का उल्लेख है। हालांकि इस धमकी भरा पत्र मिलने के बाद भी अरुण पाठक ने कहा है कि वो किसी धमकी से डरने वाले नहीं।

वाराणसी

Published: July 12, 2022 04:06:13 pm

वाराणसी. विश्व हिंदू सेना के अध्यक्ष अरुण पाठक और उनके परिवार को जान से मारने की धमकी दी गई है। ये धमकी एक रजिस्टर्ड पत्र के जरिए दी गई है जो सियालदह के पते से भेजा गया है। पत्र में दारुल इस्लाम का उल्लेख है। पत्र में लिखा है, "अरुण पाठक तू लगातार इस्लाम के खिलाफ बोलते आया है। तूने भी हमारे रसूल के खिलाफ गुस्ताखी की है। इसलिए तुझे और तेरे परिवार को इसकी सजा मिलेगी... इंशाल्लाह...। तेरी गर्दन तक भी मेरा खंजर जरूर पहुंचेगा। गुस्ताख-ए-रसूल की एक ही सजा सर तन से जुदा... सर तन से जुदा...।" हालांकि इस धमकी भरा पत्र मिलने के बाद भी अरुण पाठक ने कहा है कि वो किसी धमकी से डरने वाले नहीं। बता दें कि इससे पहले ज्ञानवापी परिसर का सर्वे कराने तथा वजूखाने को सील कारने का आदेश देने वाले सिवल जज (सीनियर डिवीजन) रवि कुमार दिवाकर को भी धमकी भरा पत्र मिला था।
विश्व हिंदू सेना के अध्यक्ष अरुण पाठक
विश्व हिंदू सेना के अध्यक्ष अरुण पाठक
सियालदाह से भेजा गया धमकी भरा पत्रपत्र में लिखा है, तेरे दोस्त कमलेश के पास पहुंचा देंगे

अरुण पाठक ने मीडिया को बताया कि धमकी भरे पत्र में लिखा है कि "तुझे भी तेरे दोस्त कमलेश तिवारी और कन्हैया लाल के तक बहुत जल्द पहुंचा दिया जाएगा। नुपुर शर्मा का साथ देने वालों का जो हश्र किया है तेरा भी वैसा ही हाल करेंगे। तेरे और तेरे जैसों के रहते हुए हम लोगों का गजवा-ए-हिंद का सपना कभी पूरा नहीं होगा। ऐसे में तेरे और तेरे परिवार का खात्मा जरूरी है।" पत्र के नीचे लिखा है, "हम हैं नबी के नेक बंदे, दारुल इस्लाम।"
सियालदाह से भेजा गया धमकी भरा पत्रअरुण पाठक ने कहा, मेरे शरीर में जब तक जान रहेगी तब तक जिहादियों का सपना नहीं होगा पूरा

बता दें कि अरुण पाठक पहले शिव सेना में थे लेकिन महाराष्ट्र में शिवसेना ने जब कांग्रेस से हाथ मिला लिया तो उन्होंने पार्टी छोड़ दी और नया संगठन बना लिया। वो ज्ञानवापी परिसर स्थित मां शृंगार गौरी मंदिर में नियमित दर्शन-पूजन के लिए करीब तीन दशक से संघर्षरत हैं। इस्लाम के विरोध और हिंदुत्व के समर्थन में लगातार बयान देते रहते हैं। अरुण पाठक ने वीडियो और धमकी भरी चिट्‌ठी जारी कर कहा कि "हम ऐसी हरकतों से डरने वाले नहीं हैं। हम बाला साहब ठाकरे के शिष्य हैं और छत्रपति शिवाजी महाराज का अनुयायी। सनातन धर्म के लिए हमारी आवाज हमेशा बुलंद रहेगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Nashik News: कंबल में लेटाकर प्रेग्‍नेंट महिला को पहुंचाया गया हॉस्पिटल, दिल दहला देने वाला वीडियो हुआ वायरलसलमान रुश्दी पर हमला करने वाले की ईरान ने की तारीफ, कहा - 'हमला करने वाले को एक हजार बार सलाम'58% संक्रामक रोग जलवायु परिवर्तन से हुए बदतर: प्रोफेसर मोरा ने बताया, जलवायु परिवर्तन से है उनके घुटने के दर्द का संबंध14 अगस्त स्मृति दिवस: वो तारीख जब छलनी हुआ भारत मां का सीना, देश के हुए थे दो टुकड़ेआरएसएस नेता इंद्रेश कुमार का बड़ा बयान, बापू की छोटी सी भूल ने भारत के टुकड़े करा दिएHimachal Pradesh: जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाने पर होगी 10 साल की जेल, लगेगा भारी जुर्मानाDGCA ने एयरपोर्ट पर पक्षियों के हमले को रोकने के लिए जारी किया दिशा-निर्देश'हर घर तिरंगा' अभियान में शामिल हुई PM नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन, बच्‍चों के संग फहराया राष्‍ट्रीय ध्‍वज
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.