UP Weather Forecast Update सावधान, अभी दो दिन और तबाही मचाएगी आकाशीय बिजली, अब तक 40 से ज्यादा लोग मरे हैं

पूर्वांचल में बिजली गिरने से पछिले तीन दिनों में तीन दर्जन से अधकि की मौत हुई है। अकेले मंगलवार को ही आकाशीय बिजली गिरने से 28 लोग पूर्वांचल में मरे हैं।

वाराणसी. मौसम का तल्ख मिजाज अभी दो दिन और झेलना पड़ेगा। आकाशीय बिजली आसमानी आफत बनकर गिरेगी। बीते तीन दिनों में आकाशीय बिजली से मरने वालों की तादाद अकेले पूर्वांचल के विभिन्न जिलों में करीब 4 दर्जन तक पहुंच चुकी हैं। मंगलवार को भी बिजली गिरन से यूपी में 25 लोगों की मौत हुई, जिसमें सबसे अधिक पूर्वांचल के जिलों में मौतें हुईं। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि अभी दो दिनों तक मौसम की वर्तमामन स्थिति बनी रहेगी और वज्रपात होगा। गरज चमक के साथ छींटे भी पड़ेंगे।

 

 

मौसम विज्ञानी प्रो. एसएन पाण्डेय ने बताया है कि मौसम के इस रौद्र रूप के पीछे बंगाल की खाड़ी में बनने वाला कम दबाव का क्षेत्र है। आंध्रा और उड़ीसा के तट पर बंगाल की खाड़ी में जो कम दबाव का क्षेत्र बना था वह अब तक बरकरार है। वहां से आने वाली हवाएं लगातार पूर्वांचल की हवाओं में नमी बढ़ा रही हैं। इन्हीं नम हवाओं के चलते थंडर स्टाॅर्म का न निर्माण हो रहा है और आकाशीय बिजली आसमानी कहर बनकर गिर रही है। उन्होंने बताया कि अगले दो से तीन दिन तक थंडर स्टाॅर्म का चांस है। भले ही बारिश थोड़ा कम हो, लेकिन आकाशीय बिजली का कहर जारी रहेगा। उधर से आने वाली दक्षिणवर्ती हवाओं का इधर पश्चिमी हवाओं से मेल होने से थंडर स्टाॅर्म बन रहा है, जिसके नतीजे में बारिश और आकाशीय बिजली गिर रही है।


बताते चलें कि मंगलवार को आकाशीय बिजली गिरने से उत्तर प्रदेश में 25 लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में गाजीपुर में 6, बलिया में 6, कौशाम्बी में 3 समेत सबसे अधिक तादाद पूर्वांचल के जिलों की रही है। रविवार को भी भारी बारिश और वज्रपात से पूर्वांचल के जिलों में डेढ़ दर्जन लोगों की मौतें हुई थीं।

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned