अब बुनकरों को भी मिलेगा एक हजार रुपया महीना, जल्द करना होगा आवेदन

हथकरघा विभाग को मिली जिम्मेदारी।

तीन माह तक खाते में आएगी एक हजार की धनराशि।

वाराणसी. कोरोना वायरस महामारी पूरा देश जूझ रहा है। इससे बचाव के लिए फिलहाल देशभर में लॉक डाउन लगा हुआ है। इसके चलते सबसे ज़्यादा परेशानी रोज़ाना कमाने खाने वाले और छोटे मोटे कामों से जुड़े हुए लोगों को करना पड़ रहा है। हालांकि सरकार अनाज से लेकर पैसे आदि से उनकी मदद करने की कोशिश कर रही है। इस कड़ी में लॉक डाउन के चलते पूरी तरह से ठप पड़ चुके बनारासी साड़ी कारोबार से जुड़े बुनकारों को भी प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत एक हज़ार रुपया महीना उनके खाते में भेजा जाएगा। यह राशि तीन महीनों तक मिलेगी।

 

योजना के तहत अन्य क्षेत्रों से जुड़े लोगों को भी शामिल किया जाएगा। इनमें बुनकरों के अलावा घरों में काम करने वाले समेत ऐसे लोग भी शामिल होंगे जो किसी विभाग में पंजीकृत हैं।

 

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन हाथकरघा विभाग में पंजीकरण कराना होगा। वहां इसके संबंध में ज़्यादा जानकारी भी ली जा सकती है। जो लोग नियमानुसार पंजीकरण करा लेंगे उनकी लिस्टिंग कर उनके बैंक अकाउंट में तीन महीने तक एक-एक हज़ार रुपये भेजे जाएंगे। बताते चलें कि बनारस में करीब एक लाख पावर लूम हैं, जबकि अनुमानत: करीब 15 हज़ार के आसपास हैंडलूम हैं। विभाग में 50 हज़ार से ज़्यादा पंजीकृत बुनकर हैं।

 

सहायक निदेशक हथकरघा डॉ. नितेश धवन का कहना है कि ज़िला प्रशासन के कहने पर योजना का दायर बढ़ाया गया है। इसका मकसद ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को इसका फायदा पहुंचाना है।

coronavirus
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned