महिला चोर ने कर दी वाराणसी पुलिस की सर्जिकल स्ट्राइक

महिला चोर ने कर दी वाराणसी पुलिस की सर्जिकल स्ट्राइक
cc tv footage

पुलिस ऑफिस के बाहर जिलामुख्यालय पर नगर निगम चौकी समेत 6 दुकानों के चटकाया ताला

वाराणसी.  आतंकियों से निबटने का दम्भ भरने वाली वाराणसी पुलिस के लिए यह शर्मसार करने वाली घटना है। एक महिला चोर ने अपने साथियों के साथ पुलिस ऑफिस के बाहर सर्जिकल स्ट्राइक कर डाली। अब आप सोच रहे होंगे कि भला चोर कैसे पुलिस की सर्जिकल स्ट्राइक कर सकता है। हम आपको वहां की भौगोलिक स्थिति बताते हैं जिससे आपको यकीन हो जायेगा। 
दरअसल, जिला मुख्यालय परिसर में डीएम और एसएसपी ऑफिस है। परिसर के बाहर की दिवार से सटी दर्जन भर दुकानों के साथ ही नगर निगम की चौकी भी है। यानी एक तरह से एसएसपी और डीएम ऑफिस के बॉर्डर पर ये दुकानें हैं।

पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में आतंकी साये का खौफ है। सुरक्षा एजेंसियों की रिपोर्ट पर वाराणसी पुलिस ने सुरक्षा के तमाम दावे किए हैं। अतिसुरक्षित व वीआईपी क्षेत्र के रूप में शुमार जिलामुख्यालय पर बीती रात पुलिस से बेखौफ चोरों ने एसएसपी व डीएम कार्यालय के समीप बने नगर निगम चौकी कार्यालय समेत 6 दूकानों के ताले तोड़कर 2000 नगदी समेत हजारों के माल पर हाथ साफ कर दिया।

चोरी की जानकारी मंगलवार सुबह जब सुबह दुकानदारों को हुई तो जिला मुख्यालय पर हड़कंप मच गया। सूचना पर पहुंची कैंट पुलिस सीसी फुटेज के आधार पर जांच में जुटी। फोटो स्टेट दूकान में लगे सीसी कैमरे में एक 30-35 वर्षीया महिला हाथ में लोहे का रॉड लिए दिखी। एसएसपी कार्यालय के समीप बनी दूकानों में सैलून संचालक खरमुल्लाह के दूकान का ताला तोड़ के 2000 नगद व गैस सिलेंडर समेत हजारों का सामान उड़ा दिया।  जवाहिर पान वाले की  दुकान का ताला तोडा, राधेश्याम फोटो स्टेट की दुकान का ताला टुटा, चाय की दूकान चलाने वाले प्रेम चौहान के दुकान का ताला तोड़ चोरी का असफल प्रयास किया। वडीएम कार्यालय गेट से सटे राधे यादव की पान के दूकान का ताला तोड़ने के साथ ही नगर निगम चौकी कार्यालय का ताला तोड़ कर उसमे रखी फाइलों को बिखेर दिया।

सीसी फुटेज में महिला के दिखने का मतलब साफ है कि महिला चोर गैंग ने इस वारदात को अंजाम दिया है। गौरतलब है कि जिस जगह चोरी हुई है वहां से महज सौ मीटर से भी कम दूरी पर 13 नवम्बर 2007 को कचहरी में धमाका किया था जिसमे कई लोगों की जाने गयी थी। आतंकी वारदात के बाद जिला मुख्यालय परिसर को अभेद किला बनाने की तमाम योजनाएं फाइलों में दौड़ी लेकिन नतीजा सिफर रहा।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned