इन लक्षणों को भूलकर भी न करें इग्नोर, हो सकता है मेटास्टैटिक कैंसर

इस वजह से होता है कैंसर

By: sarveshwari Mishra

Published: 17 Nov 2019, 04:00 PM IST

वाराणसी. आज की दौड़ती-भागती जिंदगी में हम अपने आप पर ठीक ढंग से ध्यान नहीं दे पाते और कई सारी बिमारियों के चपेट में आ जाते है। जिनमें से एक है कैंसर। यह ऐसी बीमारी है जिसके नाम से ही लोग हैरान हो जाते हैं। यह बीमारी ऐसी जिसका बेहतर इलाज भारत में सम्भव नहीं है। कैंसर होने की सबसे बड़ी वजह यह है कि इसके लक्षण का हमें पता नहीं चल पाता। यह बीमारी सबसे ज्यादा महिलाओं को होती है। क्योंकि महिलाएं हमेशा छोटी-छोटी गलतियां कर दी हैं जो उन्हें कैंसर जैसे भयावह बीमारी से ग्रसित कर देती है। आजकल महिलाओं में स्तन कैंसर का तेजी से बढ़ना देखा जा रहा है।


इसका इलाज विदेश में सम्भव है लेकिन अगर यह बीमारी किसी मध्यम वर्ग के लोगों को हो जाए तो उसका बचना मुश्किल हो जाता है। वजह यह है क्योंकि विदेशों में इलाज कराने खर्च ये परिवार वहन नहीं कर सकता। इसलिए इन महिलाओं को छोटी- छोटी बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। यह कैंसर 40 से ज्यादा उम्र वाली महिलाओं में अधिक पाया जाता है।


कैंसर शरीर की कोशिकाओं को प्रभावित करता है। शरीर में नये सेल्स और पुराने सेल्स के बदलाव की प्रक्रिया में कैंसर होने की ज्‍यादा संभावना होती है। सामान्य तौर पर शरीर में कुछ नये सेल्स बनते हैं और पुराने सेल्स टूटते हैं जिनके असमान्य जमाव से कैंसर होने की आशंका बढ़ जाती है। उच्च ग्रेड High gread (खराब अंतर) कैंसर में, कैंसर कोशिकाएं सामान्य कोशिकाओं से बहुत अलग दिखती हैं। हाई-ग्रेड कैंसर अक्सर तेजी से बढ़ते हैं और एक खराब दृष्टिकोण होता है ताकि उन्हें निम्न ग्रेड कैंसर की तुलना में विभिन्न उपचार की आवश्यकता हो। जबकि निम्न ग्रेड कैंसर में कोशिकाएं सामान्य ऊतक से कोशिकाओं की तरह दिखती हैं। आम तौर पर, ये कैंसर धीरे-धीरे बढ़ता है।


इन लक्षणों को कभी न करें इग्नोर
गैस बनना उल्टी आना बैक पेन एब्डॉमिनल पेन, महिलाओं में अधिक होता है। यह पेन पेट के निचले हिस्से में रुक रुक कर होता है। अगर ऐसा हो तो इसे अनदेखा न करें। अनियमित पीरियड्स - कभी-कभी पीरियड जल्दी आ जाता है तो कभी बहुत लेट आता है तो ऐसी स्थिति में डॉक्टर से सम्पर्क करना चाहिए। ये भी हाई ग्रेड कैंसर का लक्षण हो सकता है। बहुत ज्यादा काम करने के बाद थकान होना आम बात है लेकिन बॉडी को आराम मिलने के बाद भी थकान लग रही है तो इसे अनदेखा न करें। ये थकान भी कैंसर का रूप ले सकता है।


मेटास्टैटिक कैंसर
सर दर्द दौरा पड़ना
चक्कर आना
सांस में तकलीफ
देखने में समस्या
पेट में सूजन
पीलिया
एनीमिया

sarveshwari Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned