script150 teachers made rangoli in 4661 square feet | धनतेरस पर साकेत में 150 शिक्षिकाओं ने 800 किलो रंग से 4661 वर्ग फीट में बनाई रंगोली | Patrika News

धनतेरस पर साकेत में 150 शिक्षिकाओं ने 800 किलो रंग से 4661 वर्ग फीट में बनाई रंगोली

दीपोत्सव

विदिशा

Published: November 02, 2021 10:11:21 pm

विदिशा. धनतेरस पर साकेत विद्यालय ने राष्ट्र को समर्पित विशाल और भव्य रंगोली बनाकर शहर का दिल जीत लिया। 150 से ज्यादा शिक्षक-शिक्षिकाओं ने 800 किलो रंगोली के रंगों से 4661 वर्ग फीट में जो रंगोली बनाई उसे देखने धनतेरस की शाम लोग उमड़ पड़े। जब भगवान धनवंतरि और माता लक्ष्मी की पूजा और आरती के साथ इस परिसर में दीप जले तो जैसे सारा परिसर मुस्करा उठा। रंगोलियों में दमकते दीपों की आभा ने जैसे परिसर में अध्यात्म, राष्ट्र प्रेम, विपरीत परिस्थतियों में भारतीय जनमानस के संघर्ष का जज्बा ‘‘हम सब एक हैं’’ की भावनाओं को संजोकर चार स्थानों पर प्रभावी ढंग से उकेर दिया था।
धनतेरस पर साकेत में 150 शिक्षिकाओं ने 800 किलो रंग से 4661 वर्ग फीट में बनाई रंगोली
धनतेरस पर साकेत में 150 शिक्षिकाओं ने 800 किलो रंग से 4661 वर्ग फीट में बनाई रंगोली

पहली रंगोली में 2050 का विकसित नव भारत दर्शाया गया, जिसमें देश की मजबूत अर्थव्यवस्था, जैविक कृषि, उत्तम स्वास्थ्य, प्रगत सूचना तंत्र, संचार माध्यम, नवीनीकृत स्त्रोतों का उपयोग, मजबत सुरक्षा, सशक्त सेना, चिकित्सा क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास, स्वदेश निर्मित उन्नत तेजस विमान और राष्ट्र मंथन को दर्शाया गया।

दूसरी रंगोली सनातन विश्व में शिव सृष्टि को दर्शा रही थी, पृथ्वी लोक पर शिवलिंग पूजन के महत्व को प्रदर्शित करती इस रंगोली में, भगवान शिव माता पार्वती के साथ शिवलिंग में विराजित है, गंगा प्रवाहित है।

तीसरी रंगोली में श्रीनाथ द्वारा में विराजे श्रीनाथ जी को अत्यंत कलात्मक रूप में दर्शाया गया है। रंगोली और हस्तकला से निर्मित यह सम्पूर्ण झांकी वल्लभाचार्य के प्रेम से प्रकट हुए भगवान श्रीनाथ जी नाथद्वारा राजस्थान में भव्य मंदिर की प्रतिकृति के रूप में बनाई गई है। इसमें श्रीनाथ जी का स्वयं का बाजार, केसर पीसने के लिए स्वर्ण चक्की और मेवे के लिए चांदी की चक्की, महाद्वार, मोर, हाथी, कलश, भोग, नारियल के पेड़ और मध्य में विराजे मनोहारी छबि वाले श्रीनाथ जी का श्री विग्रह।

चौथी रंगोली अतुल्य भारत को दर्शाती है। इसमें कोरोनाकाल की दो वर्ष की चुनौतियों से जूझते और जीतते अतुल्य भारत को दर्शाया गया है। इसमें प्राकृतिक छटा से परिपूर्ण भारत, ड्रेगन से डटकर मुकाबला करता भारत, सीमाओं पर शांति के दीप जलाता भारत, कोरोना महामारी में सुरक्षित स्वास्थ्य की कामना से दीप प्रज्जवलित करते डॉक्टर, मेडिकल स्टाफ, पुलिस और सफाईकर्मी, समुद्री सीमा पर तैनात मिसाईल रेंज इन्सटूमेंटेशन, 100 करोड़ टीकाकरण का इतिहास रचता भारत, आसमान में उड़ान भरते राफेल, ओलंपिक, पैरालंपिक में नए आयाम रचता भारत, घुसपैठियों, आतंकवादियों को मुंहतोड़ जवाब देता भारत, भारतीय रक्षा अनुसंधान द्वारा निर्मित अग्नि 5 का सफल प्रक्षेपण करता भारत, आजादी का अमृत महोत्सव मनाता भारत, सशक्त वायुसेना सीमा प्रहरी राफेल तथा चौतरफा विपरीत परिस्थितियों में भी सूर्य के समान चमकता-अतुल्य भारत दर्शाया गया है। संस्थान के डायरेक्टर संजय पांडेय ने बताया कि साकेत दीपोत्सव की ये रंगोलियां 3 नवंबर को नगरवासियों के अवलोकन के लिए दिन भर खुली रहेंगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहकर्नाटक में कोरोना की रफ्तार तेज, 47  हजार से अधिक नए मामलेरामगढ़ पचवारा में बरसे टिकैत, कहा किसानों की जमीन को छीनने नहीं दिया जाएगाप्रदेश के डेढ़ दर्जन जिलों में रेत का अवैध परिवहन जारी, सरकार को करोड़ों का नुकसान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.