script38 thousand consumers of Ujjwala are unable to get gas refilling | उज्ज्वला के 38 हजार उपभोक्ता नहीं करा पा रहे गैस सिलेंडर की रिफलिंग | Patrika News

उज्ज्वला के 38 हजार उपभोक्ता नहीं करा पा रहे गैस सिलेंडर की रिफलिंग

963 रुपए का सिलेंडर पड़ रहा भारी

विदिशा

Published: April 16, 2022 01:00:16 am

विदिशा। उज्ज्वला योजना मे गैस एजेंसियों पर दवाब बनाकर प्रशासन ने ताबड़तोड़ तरीके से गरीबों को गैस सिलेंडर व चूल्हे की व्यवस्था तो करा दी, लेकिन अब इन सिलेंडरों के दाम ने गरीबों से इनकी दूरियां बढ़ा दी है। गैस सिलेंडर इस समय 963 रुपए 50 पैसे का मिल रहा। इतनी बड़ी रकम गरीबों के लिए एक मुश्त देना आसान नहीं हो रहा जिससे कुल उपभोक्ताओं में से 38 हजार उपभोक्ता एक बार सिलेंडर लेने के बाद दोबारा नया सिलेंडर नहीं ले पा रहे इससे गरीबों की मुश्किल बढ़ने के साथ ही गैस एजेंसी संचालकों भी आफत में आने लगे हैं। इन एजेंसियों पर उपभोक्ताओं की संख्या बढ़ी, कर्मचारी बढ़े, खर्च बढ़ा पर सिलेंडरों की रिफलिंग नहीं होने से आय कम हो गई है।

मिली जानकारी के अनुसार शहर में पांच गैस एजेंसी है। इन एजेंसियों के जरिए उज्ज्वला योजना मे वर्ष 2016 से अब तक इस योजनांतर्गत 40 हजार लोगों को यह सिलेंडर उपलब्ध कराए गए। सरकार से लक्ष्य प्राप्त होता रहा और जिला प्रशासन इस लक्ष्य को पूरा कराने के लिए एजेंसी पर लगातार दबाव बनाता रहा जिससे कोई हितग्राही छूट न जाए इसके लिए एजेंसी कर्मचारियों ने दिन रात एक किए लेकिन अब 40 हजार उपभोक्ता में से करीब 2 हजार उपभोकता ही रिफलिंग करा पा रहे हैं। एजेंसी संचालक इसका मुख्य कारण गैस सिलेंडर के दाम अधिक होना मान रहे हैं। इनका कहना है कि गरीब हितग्राहियों ने जब यह सिलेंडर लिए थे तो इनकी रिफलिंग इनकी पहुंच में थी लेकिन अब सिलेंडरों के यह दाम भारी पड़ रहे हैं। फलस्वरूप एजेंसियों की आय प्रभावित हो रही जबकि खर्चे यथावत बने हुए हैं।

यह था उज्ज्वला योजना का उद्देश्य

उज्ज्वला योजना का उद्देश्य महिलाओं का स्वास्थ्य एवं पर्यावरण की रक्षा का था। चूल्हे पर खाना बनाने से महिलाओं के स्वास्थ्य पर पड़ने वाले विपरीत प्रभाव से उन्हें बचाना था और इसे ध्यान में रखते हुए गरीब महिला उपभोक्ताओं को इस योजना के तहत सिलेंडर व गैस चूल्हा उपलब्ध कराए गए थे। ग्र शुरूआत में सिलेंडर के दाम कम होने से इनका उपयोग भी गरीबों के घरों में बढ़ा था लेकिन अब इसके दाम बहुत अधिक होने से गरीब परिवार वापस अपने मिट्टी के चूल्हे पर लकड़ी कंडों की मदद से भोजन बनाने के लिए मजबूर होने लगे हैं।
सबसिडी सिर्फ 3 रुपए 19 पैसे

सिलेंडरों पर सबसिडी से सभी उपभोक्ताओं को कुछ राहत मिली थी लेकिन कोरोना काल से यानी दो वर्ष से सबसिडी बंद है। 963 रुपए के सिलेंडर पर करीब 300 रुपए सबसिडी मिलना चालिए लेकिन उपभोक्ताओं को मात्र 3 रुपए 19 पैसे ही सबसिडी मिल रही वह भी अधिकांश उपभोक्ताओं को नहीं मिल रही है। ऐसे में सिलेंडर की 963 रुपए की यह राशि उपभोक्ताओं पर काफी भारी पड़ रही है। न केवल उज्जवल योजना बल्कि सामान्य उपभोक्ता भी सिलेंडरों की कम रिफलिंग करा रहे हैं।
ऐसे बढ़े दाम

वर्ष 2021
जनवरी -733 रुपए

मार्च- 833
जुलाई-849

अगस्त-874
सितंबर-898

अक्टूबर-913
वर्ष 2022

जनवरी-913
अप्रेल-963.50

--------------
वर्जन

शहर में उज्जवला योजना में सिलेंडरों की रिफलिंग सिर्फ 5 प्रतिशत रह गई है जो नियमित उपभोक्ता थे उनकी भी 10 प्रतिशत तक रिफलिंग घटी है। गैस सिलेंडर के दाम अधिक होने से यह िस्थति बन रही है।
-संतोष राजपूत, प्रबंधक, नीरा गैस एजेंसी

----------------
सबसिडी से उपभोक्ताओं को राहत थी लेकिन यह करीब दो वर्ष से बंद है। सिर्फ 3 रुपए 19 पैसे सबसिडी आ रही। इस कारण अब सामान्य उपभोक्ता भी कम रिफलिंग करा रहे इससे एजेंसियों की सेल घटी है, जबकि खर्चा यथावत बना हुआ है।

-विवेक ठाकुर, संचालक, विदिशा गैस एजेंसी
उज्ज्वला के 38 हजार उपभोक्ता नहीं करा पा रहे गैस
उज्ज्वला के 38 हजार उपभोक्ता नहीं करा पा रहे गैस

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

मुस्लिम पक्षकार क्यों चाहते हैं 1991 एक्ट को लागू कराना, क्या कनेक्शन है काशी की ज्ञानवापी मस्जिद और शिवलिंग...दिल्ली के अशोक विहार के बैंक्वेट हॉल में लगी आग, 10 दमकल मौके पर मौजूदभारत में पेट्रोल अमेरिका, चीन, पाकिस्तान और श्रीलंका से भी महंगाकर्नाटक के राज्यपाल ने धर्मांतरण विरोधी विधेयक को दी मंजूरी, इस कानून को लागू करने वाला 9वां राज्य बनाSwayamvar Mika Di Vohti : सिंगर मीका का जोधपुर में हो रहा स्वयंवर, भाई दिलर मेहंदी व कॉमेडियन कपिल शर्मा सहित कई सितारे आएIPL 2022 MI vs SRH Live Updates : 16 ओवर के बाद हैदराबाद 2 विकेट के नुकसान पर 164 रन पर, त्रिपाठी ने बनाया शानदार अर्धशतकहिमाचल प्रदेश: सीएम जयराम ने किया एलान, पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की जांच करेगी CBIज्ञानवापी मामले में काशी से दिल्ली तक सुनवाई: शिवलिंग की जगह सुरक्षित की जाए, नमाज में कोई बाधा न हो
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.