लापरवाहीः ऑपरेशन के बाद 41 महिलाओं को अस्पताल के कॉरिडोर में लेटाया

बड़ी लापरवाही- विदिशा जिले में नसबंदी के बाद 41 महिलाओं को जमीन पर ही लेटा दिया, स्वास्थ्य विभाग ने दिए जांच के आदेश...।

By: Manish Gite

Published: 27 Nov 2019, 10:39 AM IST

विदिशा। जिले के ग्यारसपुर स्वास्थ्य केंद्र में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही सामने आई है। यहां नसबंदी के बाद महिलाओं को जगह भी नसीब नहीं हुई। उन्हें जमीन पर ही लेटा दिया गया। ऐसी कुल 41 महिलाओं के आपरेशन के बाद उन्हें जमीन पर लेटा दिया गया। इससे कई महिलाओं की जांच जोखिम में आ गई थी। इधर, लापरवाही उजागर होने के बाद जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने जांच कराने के आदेश दिए हैं।

विदिशा के ग्यारसपुर स्वास्थ्य केंद्र में बुधवार को यह मामला उजागर हुआ है। 41 महिलाओं के नसबंदी आपरेशन किए गए थे। लेकिन, सभी महिलाओं को अस्पताल के कॉरिडोर में ही लाइन से लेटा दिया गया। इस मामले का जब खुलासा हुआ तो डाक्टरों में हड़कंप मच गया।

 

क्या कहते हैं स्वास्थ्य अधिकारी
सीएमएचओ केएस अहिरवार ने भी माना कि लापरवाही की खबर मिली है, उन्होंने जांच के आदेश दिए हैं। साथ ही ग्यारसपुर चिकित्सकों को नोटिस देकर मामले में स्पष्टीकरण मांगा है। उन्होंने कहा है कि यह घोर लारवाही है, इसमें दोषी चिकित्सकों पर कार्रवाई की जाएगी।

 

इससे पहले भी कई बार हुई लापरवाही
-विदिशा के राजीव गांधी स्मृति चिकित्सालय में भी पिछले दिनों नसबंदी करवाने आई 29 महिलाओं को सुबह से लेकर शाम तक इंतजार करवाया गया था। शिविर नसबंदी के लिए 29 महिलाओं ने अपना पंजीयन कराया था। डाक्टर के आने के बाद शाम पांच बजे 28 महिलाओं के आपरेशन शुरू हो पाए थे। रात आठ बजे तक महिलाओं को छुट्टी दी गई। स्वास्थ्य विभाग द्वारा हर साल सर्दी के सीजन में विशेष नसबंदी शिविरों का आयोजन किया जाता है। जब गुना से डाक्टर बीएल कुशवाह सिरोंज अस्पताल पहुंचे तब जाकर उनके आपरेशन की प्रक्रिया शुरू हो सकी। 5 घंटे देरी से आए डाक्टरों की वजह से महिलाएं तो परेशान हुई ही उनके साथ आए बच्चे और परिजनों को भी परेशानी का सामना करना पड़ा। इस दौरान महिलाएं और उनके परिजन भूखे प्यासे रहे।

Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned