देशप्रेम की जीत: भारी विवाद और हंगामे के बाद गूंजी भारत माता की आरती

कॉलेज और जिला प्रशासन ने नहीं दी अनुमति, पुलिस बल और कलेक्टर-एसपी के सामने कॉलेज गेट के सामने हुआ आयोजन।

विदिशा। सेंट मेरी कॉलेज में देश प्रेम की भावनाओं और युवा शक्ति के संघर्ष की जीत हुई, जबकि कॉलेज कैम्पस में भारत माता की आरती न कराने की कॉलेज प्रबंधन की जिद हार गई। भारी पुलिस बल के दबाव के बावजूद अभाविप, विश्व सनातन संघ और सनातनश्री हिन्दू उत्सव समिति के लोगों ने सेंट मेरी गेट के सामने तिरंगे लहराकर भारत माता की आरती उतारी। जबकि अंदर भी छात्रों ने क्लासरूम में भारत माता की सांकेतिक आरती उतारकर अपना संकल्प पूरा किया। हालांकि भारत माता की आरती उतारने में अभावि, हिन्दू संगठनों के बीच खूब बवाल हुआ, पुलिस से छात्र नेता उलझे, लेकिन अंत में पुलिस को चकमा देकर छात्र नेताओं ने कलेक्टर, एसपी और तमाम पुलिसबल के सामने कॉलेज गेट के सामने ही भारत माता की उतारी।

दस थानों का बल किया था तैनात
अभाविप के ऐलान के बावजूद सेंट मेरी कॉलेज प्रबंधन और प्रशासन ने कॉलेज में आरती की अनुमति नहीं दी। लेकिन अभाविप से जुड़े लोग आरती पर आमादा थे। प्रशासन और पुलिस ने कॉलेज और आसपास के क्षेत्र को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया। भोपाल के पुलिस बल सहित दस थानों का पुलिस बल तैनात कर दिया गया। कॉलेज गेट, कॉलेज कैम्पस, ट्रिनिटी कान्वेंट, माता मंदिर सहित जगह-जगह पुलिस बल तैनात रहा। पीतल मिल की ओर से छात्र नेताओं ने बार-बार आगे बढऩे और कॉलेज गेट तक पहुंचने का प्रयास किया लेकिन भारी पुलिस बल के कारण वे सफल नहीं हुए। यहां पुलिस और छात्र नेताओं की जोरदार झड़प भी हुई।

चकमा देकर ले आए तिरंगा
झड़प के दौरान पुलिस प्रशासन ट्रिनिटी के पास छात्र नेताओं को रोकने में व्यस्त था, उसे भान भी नहीं था कि दूसरी ओर से और लोग आ जाएंगे। करीब 12.45 बजे सागर पुलिया की ओर से तिरंगा झंडा और भारत माता की तस्वीर लिए लोग सेंट मेरी गेट के सामने आ पहुंचे। अचानक आए इन लोगों को खदेडऩा पुलिस के लिए मुश्किल था। आनन-फानन में छात्र नेताओं ने तस्वीर को वहीं रखकर भारत माता की आरती की। नारे लगे और सैकड़ों हाथों में तिरंगा लहरा उठा। सामने कलेक्टर, एसपी और तमाम पुलिस बल देखता रह गया। इस बीच कॉलेज कैम्पस से वीडियो वायरल हुआ जिसमें एक क्लासरूम में कुछ छात्रों ने कमरा बंद कर भारत माता की आरती कर ली थी।

जबरन घुसकर कराई आरती
उधर सेंट मेरी कॉलेज कैम्पस में फादर फ्रीजो ने पत्रकारों से इस बात की पुष्टि भी की। उन्होंने बताया बड़ी संख्या में छात्रों ने एक कमरे में जबरिया पहुंचकर कमरा बंद कर भारत माता की आरती की है। विश्व सनातन संघ के कार्यकर्ताओं ने भी आकर प्रदर्शन किया। संघ के रूपेश गोस्वामी ने कहा कि 16़ जनवरी को सेंटमेरी परिसर के अंदर संघ भारत माता की आरती करेगा, जिसमें खुद उपदेश राणा शामिल होंगे। आरती के बाद वापस जाते छात्र नेताओं पर पुलिसकर्मियों ने लाठियां चलार्इंं। इस पर बिफरे छात्र नेताओ ने सड़क पर बैठकर पुलिस कर्मियों से तीखी नोंकझोंक की। एसपी से शिकायत की तो एसपी ने कहा कि ऐसे लाठीचार्ज नहीं होता, मैं आदेश देता तब एक साथ कई पुलिसकर्मी लाठियां चलाते।

आसिफ सिद्दीकी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned