कोरोना ने हमें अपनी जड़ों से जुडऩा सिखाया-बुंदेला

सर्किल हेड ने की कृषक प्रशिक्षण केंद्र की सराहना

By: govind saxena

Published: 21 Nov 2020, 09:34 PM IST

विदिशा. कोरोना संक्रमण तमाम मायनों में नुकसानदायक है, इससे सतर्कता और सुरक्षा भी जरूरी है। लेकिन इससे एक बड़ा लाभ भी हुआ है कि हम अपनी जड़ों ने जुडऩा सीख गए। खासकर खेती किसानी के क्षेत्र में कोरोना संकट यहां वहां घूमने की बजाय अपनी फसलों पर ध्यान देने और उसकी देखरेख के लिए बहुत कीमती रहा है। खेती से दूर हो गए लोग भी खुद खेती करने लगे हैं। यह बात पंजाब नेशनल बैंक के सर्किल हेड नवीन बुंदेला ने कृषक प्रशिक्षण केंद्र में किसानों और प्रशिक्षु छात्राओं को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने केंद्र की गतिविधियों और व्यवस्था की सराहना की।


पीएनबी के कृषक प्रशिक्षण केंद्र में आयोजित किसानों को डिमोस्ट्रेशन सामग्री और प्रशिक्षु छात्राओं को प्रमाणपत्र वितरण के साथ ही पीएनबी प्रेरणा मंडल द्वारा महिलाओं को सामग्री वितरित की गई। केन्द्र की निर्देशक डॉ दक्षता खरे माथुर ने आयोजन की भूमिका और प्रशिक्षण संबंधी जानकारी देकर अतिथियों का स्वागत किया। इस अवसर पर 35 किसानों को डिमोस्टे्रशन सामग्री प्रदान की गई, जबकि 30 से अधिक प्रशिक्षु छात्राओं को प्रशिक्षण उपरांत प्रमाणपत्र प्रदान किए गए। प्रमाणपत्र देते हुए सर्किल हेड बुंदेला ने उनसे सीखे हुए हुनर का सदुपयोग कर आत्मनिर्भर बनने को कहा। प्रेरणा महिला मंडल द्वारा इस मौके पर गांव की जरूरतमंद महिलाओं को कंबल वितरित किए। बुंदेला ने केंद्र की गतिविधियों की सराहना करते हुए परिसर में पौधरोपण भी किया। इस मौके पर नाबार्ड के डीडीएम मनोज केदारे, उद्यानिकी के जीआर सावरिया, कृषि विशेषज्ञ एमएस राजपूत आदि अनेक लोग मौजूद थे।

govind saxena Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned