सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा ये मंदिर, नए संसद भवन से हूबहू मिलती है डिजाइन

नए संसद भवन और विदिशा जिले के विजय मंदिर की डिजाइन में हैं काफी समानता, परमार राजाओं ने कराया था मंदिर का निर्माण..

By: Shailendra Sharma

Published: 16 Dec 2020, 03:34 PM IST

विदिशा. दिल्ली में बनने वाले नए संसद भवन की चर्चाओं के बीच इन दिनों मध्यप्रदेश में एक मंदिर की तस्वीरें सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही हैं। तस्वीरों को देखकर इस तरह की चर्चाएं भी हो रही हैं कि भारत के नए संसद भवन की डिजाइन इस मंदिर से हुबहू मिलती है। जिस मंदिर की डिजाइन पर नए संसद भवन की डिजाइन बनाए जाने की बात कही जा रही है वो मंदिर विदिशा जिले का विजय मंदिर है। इस मंदिर को परमार काल में परमार राजाओं ने बनवाया था।

 

 

vidisha.jpg

विजय मंदिर से हुबहू मिलती है नए संसद की डिजाइन
विदिशा जिले में स्थित विजय मंदिर से भारत के नए संसद भवन की डिजाइन हुबहू मिलती हुई नजर आती है। तस्वीरों में दोनों के बीच कई समानताएं भी दिख रही हैं। कुछ लोग भारत के नए संसद भवन को अमेरिका के पेंटागन की नकल बता रहे हैं लेकिन कुछ लोग अब इसे विजय मंदिर से मिलता जुलता बताने लगे हैं। सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्टर के तहत बनने वाले नए संसद भवन की ही तरह विजय मंदिर त्रिभुजाकार है, मंदिर का ऊंचा बेस और नए संसद भवन की डिजाइन भी काफी हद तक एक समान ही नजर आती हैं।

 

sansad_2.jpg

परमार राजाओं ने बनवाया, औरंगजेब ने तोपों से गिरवाया
विदिशा के विजय मंदिर का निर्माण परमार काल में परमार राजाओं ने कराया था। इस मंदिर को बाद में औरंगजेब ने ध्वस्त किया था। इतिहासकार बताते हैं कि 1682 के लगभग औरंगजेब ने तोपों से इस मंदिर को तुड़वा दिया था। बाद में जब मालवा का राज्य मराठों के पास आया तो उन्होंने एक बार फिर मंदिर का जीर्णोद्धार काम शुरु किया। वर्तमान में विजय मंदिर बीजा मंडल एएसआई के संरक्षण में है और इसके जीर्णोद्धार का काम चल रहा है। करीब आधा मील फैलाव में बने विजय मंदिर की ऊंचाई करीब 100 के आसपास है।

 

देखें वीडियो- कार्रवाई न होने से जारी लापरवाही

 

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned