कांग्रेस विधायक भार्गव पर हमले के बाद गर्माई सियासत, दिग्विजय बोले-सरकार की गुलामी कर रही पुलिस

विदिशा में महिला केन्द्रीय मंत्री (cabinet minister) पर टिप्पणी करने के बाद विधायक शशांक भार्गव (shashank bhargava) पर हुए हमले को लेकर कांग्रेस (congress) हमलावर हो गई है..

By: Shailendra Sharma

Published: 26 Jun 2020, 08:43 PM IST

विदिशा. विदिशा से कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव (MLA shashank bhargava) के घर पर हुए हमले (attck) को लेकर प्रदेश में सियासी पारा चढ़ गया है। कांग्रेस (congress) ने भार्गव के घर पर हुए हमले को लेकर बीजेपी (bjp) पर जमकर निशाना साधा है। राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह (digvijay singh), पूर्व मंत्री जीतू पटवारी (jeetu patwari) और विधायक आरिफ मसूद विदिशा पहुंचे और भार्गव के घर पर हुए पथराव और फायरिंग की घटना को लेकर विरोध प्रदर्शन किया।

हमले को लेकर दिग्विजय हुए 'हमलावर'
विरोध प्रदर्शन के दौरान राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह (rajyasabha sansad) ने एक के बाद एक प्रदेश की बीजेपी सरकार पर हमले बोले। दिग्विजय सिंह ने मध्यप्रदेश पुलिस (mp police) की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाए और विदिशा नगर पालिका के अध्यक्ष मुकेश टंडन (mukesh tondan) पर जमकर हमला बोला।

 

humla_2.jpg

हमला नंबर-1
दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव के घर पर हुए हमले की निंदा करते हुए कहा कि हम इसका विरोध करते हैं। उन्होंने शशांक भार्गव के बयान का जिक्र करते हुए कहा कि अगर उन्होंने किसी को प्रिय कह दिया तो इसमें गलत क्या है। केन्द्र में जब कांग्रेस की सरकार थी तब वही महिला नेत्री चूड़ियां भेंट करती थीं और अब चुप बैठी हैं।

हमला नंबर-2
दिग्विजय सिंह ने भार्गव के बंगले पर हुए हमले का विरोध जताते हुए मध्यप्रदेश पुलिस पर भी सवाल उठाए। दिग्विजय सिंह ने कहा कि वो भी 10 साल तक मुख्यमंत्री रहे कई साल तक मंत्री रहे लेकिन एमपी पुलिस को इतनी गुलामी करते कभी नहीं देखा। दिग्विजय ने कहा कि मध्यप्रदेश की पुलिस सरकार की गुलामी कर रही है। उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि जिन लोगों ने भार्गव के घर पर पत्थर फेंके, फायरिंग की पुलिस उनके खिलाफ नामजद रिपोर्ट क्यों नहीं लिख रही है।

 

humla_3.jpg

हमला नंबर-3
दिग्विजय सिंह ने इस दौरान उनके और कांग्रेस के दूसरे नेताओं के खिलाफ दर्ज हो रहे मामलों को लेकर कहा कि भोपाल में मेरे खिलाफ शिकायत दर्ज करने की होड़ सी लगी हुई है। मैंने साइकिल चलाई तो मुझ पर मामला दर्ज कर लिया। मैं पूछता हूं कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने की जिम्मेदारी की है? दिग्विजय ने आगे कहा कि हैट वाले बीजेपी के एक पूर्व विधायक इंदौर में लॉकडाउन के बीच सरकारी राशन बांटते हैं, हजारों लोगों की भीड़ लगती है। वो न मास्क लगाए हुए होते हैं और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हैं लेकिन पुलिस उन पर मामला दर्ज नहीं करती है। मंत्री बनने के बाद नरोत्तम मिश्रा जी दतिया जाते हैं न मास्क लगाते हैं और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हैं लेकिन उन पर भी मामला दर्ज नहीं होता और हम कुछ नहीं करते तो भी हम पर कार्रवाई होती है। आखिर ये दोहरा मापदंड क्यों अपनाया जा रहा है ?

देखें वीडियो-

 

हमला नंबर- 4
नगर पालिका अध्यक्ष और बीजेपी नेता मुकेश टंडन पर भी दिग्विजय सिंह ने बड़ा हमला बोला और मंच से उन्हें सीएम शिवराज सिंह चौहान का विदिशा में सबसे बड़ा दलाल बताया।

ये है पूरा मामला
बता दें कि गुरुवार को कांग्रेस के प्रदर्शन के बाद विधायक शशांक भार्गव ने एक बयान दिया था जिसमें उन्होंने एक केन्द्रीय मंत्री को लेकर आपत्तिजनक बात कही थी। इसी बयान को लेकर गुस्साए बीजेपी कार्यकर्ताओं ने बीती रात उनके घर पर हमला बोल दिया था और तोड़फोड़ करते हुए फायरिंग तक की थी।

बीजेपी ने भी किया प्रदर्शन
वहीं दूसरी तरफ बीजेपी ने भी कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव के बयान को लेकर कड़ा विरोध जताया है। गुरुवार को थाने में शिकायत दर्ज कराने के बाद शुक्रवार को भी बीजेपी कार्यकर्ता सड़क पर उतरे और आपत्तिजन टिप्पणी करने के लिए विधायक पर कड़ी कार्रवाई की मांग करते हुए जमकर नारेबाजी भी की।

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned