एक पलंग पर पांच मरीज, कैसे मिले राहत

एक पलंग पर पांच मरीज, कैसे मिले राहत
vidisha

veerendra singh | Publish: Apr, 18 2017 11:38:00 PM (IST) Vidisha, Madhya Pradesh, India

जिला चिकित्सालय में 18 दिन में पहुंचे 12 हजार से ज्यादा मरीज, बढ़ते मरीज, डॉक्टरों की संख्या कम


विदिशा.
गर्मी बढऩे के साथ ही जिला अस्पताल में मरीजों की तादाद बढऩे लगी है। मरीजों की संख्या अधिक होने से मेडिकल वार्ड की हालत यह कि एक पलंग पर तीन से पांच मरीज तक भर्ती है। ऐसे में भीषण गर्मी के बीच मरीजों को राहत कम आफत अधिक हो रही है।

जिला अस्पताल में मंगलवार को ऐसी ही हालत देखने को मिली। परिसर में मरीजों की भीड़ थी और वार्ड में भर्ती मरीज में दिखाई दिए। महिला मेडिकल वार्ड में मरीजों की संख्या अधिक हो जाने से पलंग कम पड़ गए। यहां एक पलंग पर तीन से पांच महिलाएं तक उपचार कराती दिखाई दी। पलंग के पास बाटल के लिए लगे एक-एक स्टेैंड पर कई-कई बाटलें लटकाकर महिलाओं को उपचार दिया जा रहा था।

शिशु वार्ड में भी उपलब्ध पलंग के स्थान पर मरीजों की अधिक संख्या होने महिलाएं अपने बच्चों के उपचार में परेशान होती दिखी। यहां भी कुछ पलंग पर दो बच्चे भर्ती रखने की स्थिति रही। जबकि सर्जिकल एवं प्रसूति वार्ड में मरीज कुछ राहत में रहे। यहां भर्ती मरीजों की संख्या सामान्य रही।

जिला अस्पताल की ओपीडी में इस अपै्रल माह के अब तक 18 दिनों में करीब 12 हजार मरीज अस्पताल में उपचार के लिए आ चुके हैं। इनमें बुखार के अधिक मरीज आ रहे हैं। इन 18 दिनों में करीब एक हजार मरीज बुखार के आए हैं। वहीं सर्दी  के करीब 175 मरीज उपचार के लिए आए। गर्मी के बीच स्कूलों की छुट्टि और शादी-विवाह जैसे आयोजनों के कारण लोगों की भागदौड़ अधिक बढ़ गई है। जिससे लोग बीमारी की चपेट में आ रहे हैं।  इन दिनों मौसमी बीमारी के मरीज ज्यादा आ रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों के डॉक्टर्स द्वारा इस्तीफा देने के कारण वहां के सारे मरीज भी जिला अस्पताल आ रहे हैं। जिससे जिला अस्पताल में मरीजों की संख्या बढ़ गई है। जिला अस्पताल के कर्मचारियों के मुताबिक गर्मी बढऩे से मरीजों की संख्या अभी और बढऩे की आशंका है।


जिला अस्पताल की ओपीडी में मरीजों की संख्या 800 से अधिक हो चुकी जिससे डॉक्टरों की कमी महसूस की जा रही है। ओपीडी में चार-पांच डॉक्टर ही रह पा रहे, जिससे डॉक्टर कक्ष के सामने मरीजों  की लंबी कतार लग रही है और उन्हें अपनी जांच में घंटों इंतजार करना पड़ रहा है। सबसे ज्यादा परेशानी बुजुर्ग मरीजों और बच्चों को हो रही है।े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned