औपचारिक रहा अंत्योदय मेला

Veerendra Shilpi

Publish: Jun, 14 2018 11:42:18 AM (IST)

Vidisha, Madhya Pradesh, India
औपचारिक रहा अंत्योदय मेला

शासन की योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक से अधिक लोगों को देने लिए बुधवार को मुख्यमंत्री जनकल्याण सबंल एवं अंत्योदय मेले के तहत एलबीएस कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम औपचरिकता भेंट चढ़ गया।

विदिशा/सिरोंज. शासन की योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक से अधिक लोगों को देने लिए बुधवार को मुख्यमंत्री जनकल्याण सबंल एवं अन्त्योदय मेले के तहत एलबीएस कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम औपचरिकता भेंट चढ़ गया। प्रचार-प्रसार के अभाव में कार्यक्रम में बुलाए गए कुल हितग्राहियों में से महज 25 से 30 प्रतिशत हितग्राही ही नजर आए। जिसके चलते कार्यक्रम पांडाल सूना नजर आया। वहीं पानी के तक इतंजाम नहीं होने के कारण हितग्राही पानी के लिए भटकते नजर आए।

कार्यक्रम के दौरान विभिन्न योजनाओं का लाभ देने के लिए कुल 2500 हितग्राहियों को आना था। लेकिन इनमें से महज 250 से 300 के बीच हितग्राही नजर आए। मालूम हो कि प्रचार- प्रसार के अभाव के कारण लोगों का आयोजनो के प्रति मोह भंग हो रहा है। वहीं इतने कम हितग्राही आने के बावजूद उनके लिए पुख्ता इंतजाम नहीं हो सके। जिसके चलते कार्यक्रम में आए हितग्राही पानी के लिए यहां-वहां भटकते नजर आए। आयोजनकर्ताओं ने कार्यक्रम स्थल पर इतनी तेज गर्मी के बावजूद पानी के तक इंतजाम नहीं किए थे।

विधायक तक नहीं पहुंचे कार्यक्रम में
मुख्य रूप से असंगठित मजदूरों को विभिन्न योजनाओं के लाभ से लाभंवित किया गया है। कार्यक्रम में स्थिति यह रही कि हितग्राहियों के साथ ही जनप्रतिनिधियों ने भी खासी रूचि नहीं दिखाई। जिसके चलते सिरोंज-लटेरी कुरवाई विधायक भी कार्यक्रम में नहीं पहुंचे। जिले के आला अधिकारी भी कार्यक्रम में नजर नहीं आए। मालूम हो कि जब क्षेत्र का प्रतिनिधित्व पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा करते थे तो भीड़ के साथ जिले के आला अधिकारी भी आयोजनो में शामिल होते थे। लेकिन अब मात्र कार्यक्रम के नाम पर खानापूर्ति नजर आती है।

मुख्यमंत्री करते हैं गरीब, किसान की चिंता
इस दौरान क्षेत्रिय सांसद लक्ष्मीनारायण यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री ने गरीब और किसान की चिंता करते हुऐ असंगठित मजदूर योजना चलाई है। जिससे एक नया सूरज निकला है। जिससे गरीब वर्ग का उद्धार हो रहा है। वहीं दूसरी ओर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सभी की चिंता करते हुए कई जन कल्याणकारी योजनाएं बनाई हैं।

जिनका लाभ सभी को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि पहले वे दूसरी पार्टी में थे, लेकिन भाजपा की रीति, नीति और गरीबों को ध्यान में रखकर किए जा रहे कार्यों से प्रभावित होकर उन्होंने यह पार्टी अपनाई। जिससे वे भी गरीबों की सेवा कर सकें। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी कहते हंै कि भाजपा हिन्दूओं की पार्टी है जबकि ऐसा नहीं है। भाजपा ने हिन्दू-मुस्लिम दोनों के लिए बराबर योजनाएं बनाई हैं और जिनका लाभ दोनो वर्ग ले रहा है।

पहली बार आई ऐसी योजना
जनपद अध्यक्ष जितेन्द्र बघेल ने कहा कि असंगठित मजूदर योजना जैसी योजना इससे पहले कोई भी सरकार नही लाई है। मुख्यमंत्री चौहान ने गरीब किसानो की चिंता करते हुऐ ग्र्रामीणो के विकास के लिऐ अपना खजाना खोल दिया है, नही तो पहले लोग योजनाओ का लाभ लेने के लिऐ तरसते थे। भाजपा सरकार द्वारा अंतिम पंक्ति तक के व्यक्ति को घर पर जाकर योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है और सभी वर्गो को योजनाओं का लाभ मिल रहा हैै। जिला पंचायत सभापति माधवी संजीव माथुर ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा शिक्षा पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। जिससे ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले बच्चों का विकास हो रहा है।

महिलाओं की ंिचंता करते हुऐ प्रधानमंत्री ने उज्जवला योजना प्रारंभ की। जिससे महिलाओं को धुआं से निजात मिल गई। जनपद उपाध्यक्ष भैरो सिंह कुर्मी ने केन्द्र व राज्यसरकार की योजनाओ की जानकारी दी। इस दौरान पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष रघुवीर सिंह रघुवंशी, मंडी अध्यक्ष ललता बाई अहिरवार, अनिल यादव, डॉ. पीके व्यास,एसडीएम बृजेश शर्मा, जनपद सीईओ ओएन गुुप्ता, सीएमओ प्रताप सिंह के साथ ही विभिन्न विभागों के अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।

इन योजनाओं से किया लांभवित
मुख्यमंत्र जनकल्याण योजना के तहत 2664 हितग्राहियों को विभिन्न योजनाओं का लाभ देने के लिऐ आमंत्रित किया गया था। जिसमें अन्त्येष्टि सहायता, अनुग्र्रह सहायता, प्रसूत सहायता, सायकिल अनुदान, औजार उपकरण, विवाह सहायता, कल्याणी पेंशन, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, आवास के पट्टों का वितरण, लाड़ली लक्ष्मी योजना, बायोश्री योजना के तहत उपकरणों का वितरण किया गया।

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned