scriptganjbasoda missionary school vandalised on religious conversion | मिशनरी स्कूल में धर्मांतरण: हिन्दू संगठनों ने किया पथराव, गृहमंत्री बोले- विदेशी फंडिंग की होगी जांच | Patrika News

मिशनरी स्कूल में धर्मांतरण: हिन्दू संगठनों ने किया पथराव, गृहमंत्री बोले- विदेशी फंडिंग की होगी जांच

religious conversion: विदेशी फंडिंग की भी होगी जांच, गृहमंत्री ने कहा सब आएंगे जांच के दायरे में...।

विदिशा

Updated: December 07, 2021 01:51:13 pm

विदिशा। मध्यप्रदेश के विदिशा जिले के गंजबासौदा में एक मिशनरी स्कूल में जमकर हुए बवाल के बाद मंगलवार को भी भारी पुलिस बल तैनात रहा। स्कूल प्रबंधन पर 8 बच्चों के कथित धर्मांतरण का आरोप लगाया गया है। इस मामले में स्थानीय हिन्दू संगठन ने स्कूल बिल्डिंग पर जमकर पथराव किया था।

scoo.png

मंगलवार को भी सुबह से ही स्कूल परिसर के आसपास भारी पुलिस बल तैनात है। गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों पहले सेंटर जोसेफ स्कूल के 8 बच्चों का कथित धर्मांतरण का मामला उजागर हुआ था। इसके बाद से प्रशासन को लगातार ज्ञापन दिए जा रहे थे और इस घटना का विरोध किया जा रहा था।

मंगलवार को धर्मांतरण का विरोध जताते हुए हिन्दू जागरण मंच समेत, बजरंगदल और विश्व हिन्दू परिषद के कार्यकर्ता एकत्र हो गए और स्कूल का घेराव कर दिया। इसके बाद एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में आरोप लगाया गया है कि सेंट जोसेफ स्कूल में पढ़ने वाले आठ बच्चों को बीते दिनों में चर्च ले जाकर ईसाई संस्कार धर्म परिवर्तन कराए जाने की बात सामने आई है। इस मामले को राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग ने भी संज्ञान लिया है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

ईसाई मिशनरियों की ओर से संचालित कान्वेंट स्कूल, सेंट जोसेफ स्कूल एवं छात्रावासों में स्थानीय अथवा अन्य राज्यों के रहने वाले विद्यार्थियों की सूची मंगाने की भी मांग की गई है। इनमें पढ़ने वाले हिन्दू विद्यार्थियों को धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक कलावा बांधने, तिलक लगाने से रोका जाता है। इसके विरीत विद्यार्थियों को चर्च ले जाकर धर्म विशेष की प्रार्थना कराई जाती है, जो गलत है। हिन्दू संगठनों ने ज्ञापन में विदेशी फंडिंग की भी जांच की मांग की है। इनका आरोप है कि जिस भूमि पर स्कूल बना है, वह भूमि सेवा प्रकल्प के रूप में अस्पताल बनाने के लिए दी गई थी, लेकिन संस्थान ने विद्यालय बना दिया, इसकी भी जांच होना चाहिए।

स्कूल बिल्डिंग पर पथराव

मंगलवार को कई संगठनों के कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया। स्कूल बिल्डिंग पर पथराव किया, जिससे बिल्डिंग के कांच फूट गए। घटना की सूचना मिलते ही कलेक्टर उमाशंकर भार्गव और एसपी मोनिका शुक्ला, एसडीएम रोशन राय, एसडीओपी भारत भूषण शर्मा भी मौजूद थे।

पुलिस व्यवस्था पर उठे सवाल

गंजबासौदा में हुई इस घटना पर पुलिस प्रशासन पर भी आरोप लग रहे हैं। स्कूल के घेराव की पूर्व सूचना के बावजूद भी पुलि बल ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम नहीं किए थे। स्कूल प्रबंधक ब्रदर एंटोनी का कहना है कि पुलिस ने सुरक्षा की उचित व्यवस्था नहीं की गई थी। जबकि यहां बच्चों की परीक्षाएं चल रही थी। 14 बच्चे जो स्कूल में एग्जाम दे रहे थे, वे स्कूल में ही थे।

गृहमंत्री बोले- विदेशी फंडिंग की होगी जांच

धर्मांतरण के मामले में मुख्यमंत्री ने भी कहा और हम भी कह रहे हैं कि जो विदेशी फंडिंग आती है, जो एनजीओ इनका गलत उपयोग करते हैं। पीएफआइ जैसे संगठन इसका गलत उपयोग करते हैं। इसकी हम जांच करा रहे हैं, जो भी दोषी होगा उस पर कार्रवाई की जाएगी।

जांच के दायरे में सभी जगह

गंजबासौदा की घटना है। उसका प्रकार और स्वरूप थोड़ा भिन्न है, विदेशी फंडिंग से। लेकिन, जांच के दायरे में ऐसी सभी जगह रहेंगी। चार लोगों को हिरासत में लिया गया है। पुनरावृत्ति न हो, इसकी चिंता की जा रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

India-Central Asia Summit: सुरक्षा और स्थिरता के लिए सहयोग जरूरी, भारत-मध्य एशिया समिट में बोले पीएम मोदीAir India : 69 साल बाद फिर TATA के हाथ में एयर इंडिया की कमानयूपी चुनाव से रीवा का बम टाइमर कनेक्शननागालैंड में AFSPA कानून को खत्म करने पर विचार कर रही केंद्र सरकारजिनके नाम से ही कांपते थे आतंकी, जानिए कौन थे शहीद बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्रUP Election 2022: भाजपा सरकार ने नौजवानों को सिर्फ लाठीचार्ज और बेरोजगारी का अभिशाप दिया है: अखिलेश यादवतमिलनाडु सरकार का बड़ा फैसला, खत्म होगा नाईट कर्फ्यू और 1 फरवरी से खुलेंगे सभी स्कूल और कॉलेजपीएम नरेंद्र मोदी कल करेंगे नेशनल कैडेट कॉर्प्स की रैली को संभोधित, दिल्ली के करियप्पा ग्राउंड में होगा कार्यक्रम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.