सुबह लॉकडाउन की ढील में माथा टेकने पहुंचे सैकड़ो श्रद्धालु

हर्षोल्लास के साथ मनाई हनुमान जयंती

By: Anil kumar soni

Updated: 08 Apr 2020, 07:45 PM IST

मंडीबामोरा। हनुमान जयंती पर लॉकडाउन की सख्ती के बावजूद भी श्रद्धालुओं की आस्था उन्हें नगर के हनुमान मंदिरों तक खींचकर ले गई। ग्राम खजरोद स्थित प्राचीन हनुमान मंदिर में सुबह लॉकडाउन की ढील में माथा टेकने सैकड़ो हनुमान भक्त पहुंचे और भगवान को चोला, प्रसाद आदि चढ़ाकर पूजन किया।

रमण बिहारी ट्रस्ट के बगीचा स्थित हनुमान मंदिर, पंचमुखी हनुमान मंदिर, रेलवे स्टेशन स्थित संकट मोचन हनुमान मंदिर सहित अन्य सभी हनुमान मंदिरों के ताले सुबह खोले गए। मंदिर के पुजारियों ने यहां विधिवत पूजा-अर्चना की। लेकिन वायरस के कारण इस बार मंदिरों में प्रतिवर्ष होने वाले हनुमान जयंती महोत्सव नहीं हो सके। ट्रस्ट व नगर के सहयोग निकलने वाली भव्य शोभायात्रा लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए रद्द कर दी गई। लोगों ने घरों में ही सुंदरकाण्ड पाठ कर प्रसादी वितरित किया।

आनंदपुर में सादगी से मनी आनंदपुर में हनुमान जयंती, सुनसान नजर आए मंदिर
हर साल की तरह नहीं हुए सामुहिक धार्मिक अनुष्ठान
आनंदपुर। लॉकडाउन के चलते हनुमान जयंती का पर्व क्षेत्र में बहुत ही सादगी के साथ मनाया गया। लोगों ने घर-घर में भगवान हनुमान का पूजन किया। वहीं हनुमान मंदिरों में भी कम ही श्रद्धालु पहुंचे। ऐसे में मंदिर सुनसान नजर आ रहे थे।
मालूम हो कि प्रति वर्ष जहां हनुमान जयंती पर प्राचीन बूड़ाखेड़ा के हनुमान मंदिर पर सुबह से हजारों श्रद्धालुओं का तांता लग जाता था, वहीं इस बार कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते लॉकडाउन के पालन में कम ही श्रद्धालु पहुंचे।
मंदिर पुजारी पंडित अशोक शास्त्री ने बताया कि हर वर्ष हनुमान जयंती पर जहां सुबह से रात तक श्रद्धालुओं का तांता लगा रहता था। वहीं इस बार श्रद्धालुओं को हनुमान जयंती के पूर्व ही सूचित कर दिया था कि लॉकडाउन के चलते सामुहिक हवन-पूजन आदि यहां नहीं होगा। घर पर ही सभी को भगवान का पूजन करना है। सभी की तरफ से भगवान का पूजन-अर्चन पंडित द्वारा ही किया गया। वहीं भगवान की प्रसादी आनंदपुर में घर-घर पहुंचाई गई। साथ ही सभी की ओर से आरती हवन पुजारी के द्वारा करवा दिया गया।

Anil kumar soni Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned