पानी-बिजली भी नहीं दोगे तो कौन रहने आएगा-कलेक्टर

राजीव आवासों का निरीक्षण करने पहुंचे कलेक्टर

By: govind saxena

Published: 09 Jun 2021, 10:59 PM IST

विदिशा. राजीव आवास में शिफ्ट हुए लोग पिछले कुछ दिनों से पानी-बिजली की समस्या से प्रशासन को अवगत करा रहे थे। हकीकत जानने कलेक्टर डॉ. पंकज जैन बुधवार को सौराई के पास बने राजीव आवासों में जा पहुंचे। यहां कलेक्टर डॉ. पंकज जैन ने नपा के इंजीनियर वायएस भदौरिया और आजाद जैन से पूछा कि यहां के घरों में पानी आता है या नहीं। जवाब मिला नहीं आता। कलेक्टर ने एक आवास में खुद जाकर पानी चेक किया। इस बीच कई महिलाएं एकत्रित होकर राजीव आवासों में पानी और स्ट्रीट लाइट की समस्या के बारे में कलेक्टर से शिकायत करने लगीं। कुछ ने बारिश के दौरान पुलिया से आवागमन बंद होने की शिकायत भी की। उन्होंने कहा कि बस्ती से काफी बाहर है ये आवास, ऐसे में शाम होते ही पूरा अंधेरा छा जाता है, स्ट्रीट लाइट जरूरी है। पानी के इंतजाम पर इंजीनियर्स ने कहा कि हेंडपंप है यहां। इस पर हेंडपंप देखने पहुंचे कलेक्टर ने दो-तीन बच्चों से हेंडपंप चलवाकर देखा तो उसकी ऊंचाई बहुत अधिक होने से बच्चों को चलाने में काफी दिक्कत आ रही थी। इस पर सीएमओ ने भी हेंडपंप चलाकर देखा।

पानी-बिजली भी नहीं दोगे तो कौन आएगा...?
कलेक्टर राजीव आवास में पानी और बिजली की समस्या से काफी दुखी हुए। उन्होंने नपा के इंजीनियर्स से कहा कि-जवाब दो, पानी और बिजली भी नहीं दोगे तो यहां रहने कौन आएगा? हम लोगों को राजीव आवास में शिफ्ट होने को कह रहे हैं और आप लोग उन्हें पानी तक नहीं दे पा रहे हैं। नपा की ये खुद विकसित की गई कॉलोनी है। ऐसा व्यवहार तो अपराध की श्रेणी में आता है।

प्रधानमंत्री आवास में लोग नहीं आएं तो कैंसिल करें बुकिंग
कलेक्टर ने जतरापुरा स्थित प्रधानमंत्री आवासों के निर्माण की प्रगति भी देखी। उन्होंने यहां लोगों को जल्दी शिफ्ट करने पर जोर दिया। नपा इंजीनियर भदौरिया और जैन ने उन्हें बताया कि यहां 2 लाख रुपए कीमत वाले सभी 648 इडब्ल्यूएस आवास बुक हैं, लेकिन टोकन राशि देकर लोग शेष राशि देने से बच रहे हैं। ऐसे में उनका निर्माण भी प्रभावित हो रहा है। इस पर कलेक्टर ने कहा कि जो लोग राशि नहीं दे रहे हैं, उनकी बुकिंग कैंसिल कर वेटिंग में रहे दूसरे गरीबों को ये आवास दिए जाएं।

govind saxena Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned