scriptMore than 22 thousand farmers sold food grains in the district, not pa | जिले में 22 हजार से अधिक किसानों ने बेचा अनाज, भुगतान एक को भी नहीं | Patrika News

जिले में 22 हजार से अधिक किसानों ने बेचा अनाज, भुगतान एक को भी नहीं

4 अरब 94 करोड़ से अधिक का होना है भुगतान

विदिशा

Published: April 21, 2022 01:04:51 am

भूपेंद्र मालवीय, विदिशा। समर्थन मूल्य खरीदी केंद्रों पर गेहूं बेचकर किसान अपने आपको को संकट में फसा महसूस कर रहे हैं। 4 अप्रेल से जिले में खरीदी केंद्र शुरू हुए और इन केंद्रों पर अब तक 22 हजार से अधिक किसान अपना अनाज बेच चुके लेकिन किसी भी किसान को अब तक भुगतान नहीं हो पाया है। कई किसानों को भुगतान का इंतजार करते 15 दिन हो चुके। किसानों का कहना है कि समय पर भुगतान मिलने के इंतजार में अनाज बेच बैठे अब उनके पास कुछ भी नहीं बचा। सभी तरह के लेनदेन व शादी विवाह की तैयारियां संकट में आ गई है।

मालूम हो कि समर्थन मूल्य की तैयारियां कुछ माह पूर्व से ही तैयारियां चल रही थी। इसके तहत अनाज बेंचने के लिए किसानों के पंजीयन कराए कराए गए और जिले करीब 87 हजार 379 किसानों ने अपना पंजीयन, स्लॉट बुकिंग की गई पर कई दिनों की तैयारियों के बीच भी किसानों को भुगतान करने की व्यवस्था पर शासन स्तर पर गंभीरता से ध्यान नहीं दिया गया। अब हालत यह कि खरीदी केंद्रों पर किसान से कहीं तीन दिन में तो कहीं एक सप्ताह में भुगतान करने की बात कहीं गई लेकिन अनाज का विक्रय किए 15 से 16 दिन बीत गए और किसानों को उसकी बेची गई उपज का भुगतान नहीं मिल पा रहा है।
भुगतान में देरी से ओवर ड्यू हो गए किसान
उपज विक्रय की राशि समय पर नहीं मिलने से सैकड़ों किसान बैंकों की कर्ज राशि में ओवर ड्यू हो गए है। किसानों का कहना है कि केसीसी कर्ज की राशि चुकाने की आखिरी तारीख 15 अप्रेल थी। इस कर्ज को चुकाने के लिए किसानों ने समय से पूर्व अनाज बेंचा लेकिन भुगतान में देरी के कारण सैकड़ों किसान समय पर राशि जमा नहीं कर पाए और वे ओवर ड्यू हो चुके हैं।

विवाह के आयोजन संकट में

इस वर्ष विवाह की तैयारियां भी किसानों के परिवारों व रिश्तेदारों में चल रही है। खर्च अधिक है लेकिन किसानों के पास पैसा नहीं हैं। ग्राम अटारीखेजड़ा के किसान निरंजनसिंह बताते हैं कि उनके परिवार में 27 तारीख की शादी है। एक सप्ताह पूर्व अनाज बेचा करीब 10 लाख रुपए का भुगतान होना है जो अब तक नहीं हो सका। ऐसे में जरूरी खरीदी प्रभावित हो रही है। वहीं ग्राम खिरिया के जितेंद्र दांगी बताते हैं कि उन्होंने 5 अप्रेल को अनाज बेचा पर अब तक भुगतान नहीं मिला। इसी तरह की व्यथा अटारीखेजड़ा के किसान रुद्रप्रतापसिंह की है। उनका कहना है कि 13 अप्रेल को 487 िक्ंवटल अनाज का विक्रय किया। करीब 7 लाख 62 हजार 677 रुपए का भुगतान लेना है जो अभी मिला नहीं हैं। इससे किसानों के सभी तरह के लेनदेन प्रभावित है। शादियों का समय है किसान के पास पैसा नहीं होने से जरूरी खरीदी के लिए किसानों को उधारी या दूसरों से कर्ज लेने को मजबूर होना पड़ रहा है।
वर्जन
जिले में समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचने वाले किसी भी किसान को अब तक भुगतान नहीं हुआ है। इससे किसान बैंक कर्ज कर्ज न चुकाने से ओवर ड्यू हो गए हैं। ऐसे में किसानों के लिए शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण की योजना फैल हो रही है। सरकार को ड्यू डेट बढ़ाना चाहिए एवं किसानों का भुगतान शीघ्रता से कराया जाना चाहिए।

-लाखनसिंह मीणा, संभागीय उपाध्यक्ष, राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ
---------

पोर्टल तैयार नहीं हुआ है। इसलिए भुगतान नहीं हो पा रहा है। दो-तीन दिन में भुगतान की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।
-रश्मि साहू, जिला खाद्व अधिकारी

-------------------------
यह है गेहूं उपार्जन की िस्थत

कुल उपार्जन केंद्र- 201
पंजीकृत किसान-87397

विक्रय करने वाले किसान-22593
कुल खरीदी -2456408.46

कुल भुगतान शेष-4949658967
जिले में 22 हजार से अधिक किसानों ने बेचा अनाज, भुगतान एक को भी नहीं
जिले में 22 हजार से अधिक किसानों ने बेचा अनाज, भुगतान एक को भी नहीं

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मामले में काशी से दिल्ली तक सुनवाई: शिवलिंग की जगह सुरक्षित की जाए, नमाज में कोई बाधा न होAmarnath Yatra: सभी यात्रियों का 5 लाख का होगा बीमा, पहली बार मिलेगा RIFD कार्ड, गृहमंत्री ने दिए कई अहम निर्देशभीषण गर्मी के बीच फल-सब्जी हुए महंगे, अप्रैल में इतनी ज्यादा बढ़ी महंगाईCBI Raid के बाद आया केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम का बयान - 'CBI को रेड में कुछ नहीं मिला, लेकिन छापेमारी का समय जरूर दिलचस्प'कोरोना के कारण गर्भपात के केस 20% बढ़े, शिशुओं में आ रही विकृतिवाराणसी कोर्ट में का फैसला: अजय मिश्रा कोर्ट कमिश्नर पद से हटे, सर्वे रिपोर्ट पर सुनवाई 19 मई को, SC ने ज्ञानवापी पर हस्तक्षेप से किया इंकारGyanvapi: श्रीलंका जैसे हालात दे रहे दस्तक, इसलिए उठा रहे ज्ञानवापी जैसे मुद्दे-अजय माकनRajya Sabha polls: कौन है संभाजी राजे जिनको लेकर महाविकस आघाडी और बीजेपी में बढ़ा आंतरिक मतभेद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.