पंच परमेष्ठी की पंचायत में न तो सेटिंग होती है और न वोटिंग-मुनिश्री

मुनिश्री समता सागर महाराज की किरी मोहल्ले में धर्मसभा

By: govind saxena

Published: 29 Jun 2020, 08:45 PM IST

विदिशा. संसार की हर पंचायत और सरकार फेल हो सकती है क्योंकि वहां सेटिंग भी होती है और वोटिंग भी। लेकिन पंच परमेष्ठि की पंचायत कभी फेल नहीं हो सकती, वहां न सेटिंग चलती है और न ही वोटिंग। यह बात मुनिश्री समतासागर महाराज ने किरी मोहल्ला स्थित जैन मंदिर में कही।


उन्होंने कहा कि संसार की पंचायतें स्वार्थ के अधीन हैं, लेकिन पंच परमेष्ठि की भक्ति के लिए किसी वोट या सपोर्ट की जरूरत नहीं, वह तो मात्र गुणों से संबंध रखती है। उन्होंने कहा कि धन, कंचन, राजसुख, पद और प्रतिष्ठा ये सब सुख पुण्य योग से ही मिलते हैं, लेकिन संसार में यदि कोई दुर्लभ वस्तु है तो वह है यथार्थ ज्ञान। भक्ति एक ऐसी पवित्र गंगा है जो स्वयं तो पवित्र है ही, लेकिन यह इसमें स्नान करने वाले को भी पवित्र कर देती है। भक्त की भावना से ही भगवान की प्राप्ति होती है। यदि आपकी भावनाएं विशुद्ध हैं तो आपके अंदर से भक्ति की हिलोरें उठती हैं और भक्त और भगवान एकाकार दिखाई देने लगते हैं। मुनिश्री ने कहा कि जो भी णमोकार महामंत्र का जाप करते है, उन सभी को लाभ मिलता है। णमोकार महामंत्र को अकेले जैनी ही पढ़ें यह जरूरी नहीं, मंत्र तो मंत्र है। श्रद्धा से इस महामंत्र को कोई भी पढ़़ सकता है और सभी को उसका पूरा लाभ मिलता है। इस अवसर पर मुनिश्री के दर्शन करने आए मुनिश्री विशोक सागर महाराज जो कि भोपाल की ओर विहार करते हुए आए हैं, उन्होंने मुनिश्री को वंदन किया।


समाज के प्रवक्ता अविनाश जैन ने बताया कि मंगलवार को सातवें दिन जिन वंदना के तहत मुनिसंघ अरिहंत विहार जैन मंदिर से सुबह 7.30 बजे निकलेगा जो आदिनाथ जिनालय खरीफाटक पर पहुंचेगा, वहीं उनके प्रवचन और आहारचर्या होगी।

govind saxena Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned