शिवरात्रि तक नीलकंठेश्वर तक की सडक़ 30 फीट चौड़ी करने की तैयारी

अतिक्रमणों की अनदेखी करने वाले पटवारी को हटाया

By: govind saxena

Published: 10 Jan 2021, 09:03 PM IST

विदिशा. उदयपुर में महल से कब्जा हटाने के नोटिस और अवैध कब्जे का प्रकरण दर्ज करने के बाद प्रशासन ने नीलकंठेश्वर महादेव मंदिर तक की सडक़ को चौड़ा करने पूरी तैयारी कर ली है। करीब 15 लोगों मेंं से 8 लोगों ने इसके लिए सहमति भी दे दी है। वे अपनी 10-10 फीट जगह सडक़ के लिए छोडऩे तैयार हैं। इस तरह मौजूदा हाल में 10 फीट की चौड़ी सडक़ 30 फीट हो जाएगी। प्रशासन ने यह काम महाशिवरात्रि तक पूरा करने की योजना बनाई है। उधर अपने काम में लापरवाही बरतने और गांव में अतिक्रमण की सूचना न देने पर उदयपुर के पटवारी को वहां से हटा दिया है।


नायब तहसीलदार दौजीराम अहिरवार ने बताया कि पटवारी अजय यादव को एसडीएम ने उदयपुर से हटा दिया है। इस पटवारी ने गांव में बढ़ते अतिक्रमण की कोई सूचना नहीं दी, उसने महल पर लगे निजी संपत्ति के बोर्ड की सूचना भी नहीं दी थी। जब एसडीएम ने गांव का दौरा किया तो ग्रामीणों ने पटवारी अजय यादव की शिकायतें भी कीं थीं, इस पर उसे हटाकर रामस्वरूप रघुवंशी को यहां का प्रभार सौंपा गया है।


नायब तहसीलदार ने कहा कि काजी को मंगलवार तक का समय दिया है, यदि वह अतिक्रमण नहीं हटाते हैं तो प्रशासन अपने तरीके से काम करेगा। वहीं उन्होंने बताया कि उदयपुर में मुख्य चौराहे से नीलकंठेश्वर मंदिर तक पहुंचने का जो मार्ग अभी मात्र 10 फीट का है, उसे 30 फीट तक करना हमारी प्राथमिकता में है। इसके लिए सडक़ के दोनों ओर के व्यापारियों और रहवासियों से बात हुई है। इनमें से 8 ने तो अपनी लिखित सहमति भी दे दी है, शेष की सहमति और ली जा रही है। दोनों ओर 10-10 फीट जगह और लेंगे जिससे पूरी सडक़ 30 फीट की हो जाए। नायब तहसीलदार ने बताया कि यह काम हम महाशिवरात्रि के पहले तक पूरा कर लेना चाहते हैं।

govind saxena Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned