यात्री ट्रेन बंद होने से रेलवे स्टेशन सुनसान, रोजाना लाखों का नुकसान

सुनसान पड़ा हुआ है मंडीबामोरा रेलवे स्टेशन का प्लेटफार्म

By: govind saxena

Published: 06 Apr 2020, 06:30 AM IST

मंडीबामोरा. जानलेवा कोरोना वायरस से बचाव में रेलवे ने जनता कफ्र्यू के दिन से 14 अप्रेल तक यात्री ट्रेनें बंद कर रखी है। इससे रेलवे स्टेशन सुनसान है और रेलवे को खासा नुकसान हो रहा है। हालांकि मालगाडिय़ां जरूरी सामग्री की आपूर्ति कर रही है।
ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी प्राकृतिक आपदा में ट्रेनों का संचालन लगातार इतने दिन तक बंद हुआ हो। दिल्ली-मुम्बई मेन ट्रेक पर भोपाल मंडल के रेलवे स्टेशनों से सामान्यत: 24 घंटे में औसतन 350 ट्रेनों का आवागमन होता है। जिनमें 200 यात्री ट्रेनें तो वहीं 150 मालगाडयि़ां होती थी। लेकिन लॉकडाउन के चलते अधिकतम 50 मालगाडिय़ां खाद्य सामग्री सहित अन्य जरूरी वस्तु लेकर आ-जा रही है। अकेले मंडीबामोरा रेलवे स्टेशन पर रेलवे को एक लाख रूपये का नुकसान हो रहा है। क्योंकि मंडीबामोरा सहित आसपास के लोग यहां रूकने वाली 32 यात्री ट्रेनों से आने जाने के लिए लगभग एक लाख रूपए के आरक्षित व अनारक्षित टिकट खरीदते है। जो फिलहाल पूरी तरह से बंद है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि भारत के साढे आठ हजार रेलवे स्टेशनों से कितना नुकसान हो रहा होगा। यही हाल करीबी रेलवे स्टेशन बीना, गंजबासोदा, गुलाबगंज, विदिशा सहित मंडल के अन्य रेलवे स्टेशनों का है। इधर, भोपाल मंडल में मालगाडिय़ों के सुचारू रूप से संचालन के लिए स्टेशन मास्टर और पॉइंट्स मैन सहित अन्य कर्मचारी नए रोस्टर के अनुसार 12 घंटे की ड्यूटी कर रहे है।

आईआरसीटीसी से बनने लगे टिकट
आईआरसीटीसी ने 15 अप्रेल से आरक्षित टिकटों की बुकिंग तो शुरू कर दी है। लेकिन रेलवे ट्रेनों के संचालन के बारे में कुछ भी स्पष्ट रूप से कहने से बच रही है। अधिकारियों का कहना है स्थिति सामान्य हुई तो 15 अप्रेल से यात्री ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा। अगर स्थिति नहीं सुधरी नहीं तो यात्रिकों को टिकट रद्द कर रिफंड दिया जाएगा।

वर्जन...
भारत सरकार जो निर्णय लेगी रेलवे उसे अमल में लाएगी। अभी 14 अप्रेल तक यात्री ट्रेनों का संचालन बंद रखा गया है। आगे ट्रेनों का संचालन देश की वर्तमान स्थिति पर निर्भर करेगा।
-आईए सिद्दकी, जनसंपर्क अधिकारी, भोपाल मंडल

govind saxena Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned