अवैध कॉलोनियोंं पर कार्रवाई नहीं की तो एसडीएम निलंबित होंगे-संभागायुक्त

संभाग स्तर पर कार्रवाई के लिए चार टीमें गठित

By: govind saxena

Published: 05 Feb 2021, 09:47 PM IST

विदिशा. भोपाल संंभागायुक्त कवींद्र कियावत ने विदिशा और रायसेन जिलों के राजस्व अधिकारियों की संयुक्त बैठक में दोनों जिलों के सभी एसडीएम से साफ कहा है कि 20 फरवरी तक अवैध कॉलोनियों की सूची तैयार कर कलेक्टर को उपलब्ध कराएं। एसडीएम ऐसे कॉलोनाइजर के खिलाफ एफआइआर भी दर्ज कराएं जिनके द्वारा कॉलोनियों के रहवासियों को बुनियादी सुविधाएं जैसे पानी, बिजली, सडक़, नाली आदि मुहैया नहीं कराई है यानी कॉलोनियों का विकास नहीं किया है।


विदिशा कलेक्ट्रेट में राजस्व कार्यों की समीक्षा करते हुए कियावत ने कहा कि भोपाल संभाग में अवैध कॉलोनियों पर सख्त कार्रवाई हो, इसके लिए संभाग स्तर पर चार दल गठित किए गए हैं। ये दल संभाग के जिलों में भ्रमण कर कॉलोनाइजर के कार्यों का सत्यापन मौके पर करेंगे। वे यह भी देखेंगे कि कॉलोनी विकास के लिए निर्धारित मापदंड कॉलोनाइजर ने पालन किए हैं या नहीं। संभागायुक्त ने कहा कि दलों के सदस्यों के भ्रमण के दौरान अवैध कॉलोनियों पर कार्रवाई नहीं करने, बुनियादी सुविधाएं और विकास कार्य पूरे नहीं करने पर संबंधित क्षेत्र के एसडीएम को निलंबित करने की कार्रवाई होगी। इसलिए दोनेां जिलों के सभी एसडीएम इस बात की गांठ बांध लें कि उनके कार्यक्षेत्रों में कौन कौन सी अवैध कॉलोनी हैं, इसकी स्पष्ट सूची तैयार कर पहले ही वस्तु स्थिति से अवगत करा दें। उन्होंने यह भी कहा कि शहरी क्षेत्रों में एफआइआर दर्ज कराने की स्वीकृति कलेक्टर और ग्रामीण क्षेत्रों में एफआइआर दर्ज कराने की स्वीकृति संबंधित एसडीएम से तहसीलदार, नायब तहसीलदार प्राप्त करेंगे।


कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने कहा कि शहरी क्षेत्रों के समीपवर्ती ग्रामों में भी कॉलोनियां विकसित हो रही हैं। अत: एसडीएम इस ओर भी विशेष ध्यान दें, ताकि उन कॉलोनियों का विकास भी मापदंडों के अनुरूप ही हो सके। इस बैठक में विदिशा कलेक्टर डॉ जैन, रायसेन कलेक्टर उमाशंकर भार्गव, दोनेां जिलों के एडीएम, जिला पंचायत सीइओ, सभी एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार उपस्थित रहे।

govind saxena Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned