यही रोक लेते तो नहीं बनते ये हालात

यही रोक लेते तो नहीं बनते ये हालात
Vidisha photo

Shankar Sharma | Publish: Jun, 04 2015 11:39:00 PM (IST) Vidisha, Madhya Pradesh, India

आज विश्व पर्यावरण दिवस पर हर साल की तरह जिले भर में पर्यावरण संरक्षण के नाम पर अनेक आयोजन हो रहे हैं

विदिशा। आज विश्व पर्यावरण दिवस पर हर साल की तरह जिले भर में पर्यावरण संरक्षण के नाम पर अनेक आयोजन हो रहे हैं। रैलियां निकलेंगी, गोष्ठी होगीं, पौधरोपण होगा और नेता-अधिकारी और तमाम संस्थाएं भी भाषणबाजी कर पर्यावरण को बचाने की नसीहत देंगे। लेकिन हकीकत से सब वाकिफ हैं।

दरअसल शासन-प्रशासन के नुमांइदों को इन आयोजनों की जरूरत ही न पड़ती, यदि वे जिले की नदियों, पहाडियों को अवैध उत्खनन से बचा लेते। यदि बेतवा-पारासरी और जिले की तमाम नदियों को प्रदूषण से बचा लेते। कानफोडू डीजे और ध्वनि विस्तारक यंत्रों पर अंकुश लगा पाते, वायु प्रदूषण फैलाते वाहनों और उद्योगों पर लगाम कस पाते।

पेड़ों की अंधाधंुध कटाई को रोक लेते। यदि ऎसा कर पाते तो नदी, पहाड़ी, जं्रगल, आसमान सबका पर्यावरण सुरक्षित रहता हो यह रहा है कि एक तरफ दिखावे के लिए चार पौधे रोपकर पर्यावरण दिवस मनाया जाता है, तो दूसरी ओर हजारों पेड़ों को खुद शासन-प्रशासन के नुमाइंदों की निगहबानी में ही काट दिया जाता है। सवाल सिर्फ यही है, पर्यावरण बचाने के लिए क्या करना जरूरी है? पर्यावरण नष्ट पर सख्त रोक, नष्ट करने वालों पर कड़ी कार्रवाई या फिर नगर, चौराहों और संस्थानों में इस तरह के आयोजन? फैसला आपका है।

तो बच जाती पहाडियां

शहर से सटी पठारी हवेली की पहाड़ी और जंबार-बागरी की पहाडियों समेत जिले की तमाम पहाडियों को अवैध उत्खनन कर खत्म करने की साजिश चल रही है। पत्रिका ने कई बार खनन माफिया को नाम सहित उजागर किया, पर प्रशासन की नींद नहीं खुली। काश, अंकुश लगता तो बच जाता पहाडियो का पर्यावरण।

कायम रहती नदी की पवित्रता

यह है हमारी जीवनदायिनी बेतवा नदी। नगरपालिका समेत तमाम कारखानों और बस्तियों की गंदगी इसमें वर्षो से उड़ेली जा रही है। नतीजा पवित्र नदी का जल आचमन के लायक भी नहीं बचा। प्रशासन की नजर इस पर पड़ती तो नालों से हो रहा प्रदूषण बंद होता और बच जाता बेतवा का ईको-सिस्टम।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned