scriptSurf 10 days water left to quench the thirst of the city, then asked f | शहर की प्यास बुझाने सर्फ 10 दिन का पानी शेष, फिर मांगा हलाली से पानी... | Patrika News

शहर की प्यास बुझाने सर्फ 10 दिन का पानी शेष, फिर मांगा हलाली से पानी...

कई क्षेत्रों में टैंकरों से करना पड़ रही जलापूर्ति

विदिशा

Published: April 20, 2022 01:32:47 am

विदिशा।शहर में पानी की व्यवस्था के लिए एक माह पूर्व हलाली बांध से 20 एमसीएफटी पानी लिया गया था जो अब खत्म हो होने जा रहा है। बेतवा के कालीदास डेम में अब सिर्फ 10 दिन का पानी ही शेष है। पानी की इस समस्या को ध्यान में रखते हुए अब नपा ने पुन: हलाली से पानी मांगा है। यह पानी मिलने के बाद शहर में आगामी एक माह और पानी की व्यवस्था हो सकेगी। मालूम हो कि गर्मी के दिनों में हर वर्ष की तरह बेतवा में बहुत कम पानी रह गया है। बायपास पर बेतवा पर बने पुल स्थल पर बेतवा दूर तक खाली मैदान में बदल चुकी है। इन हालातों में शहर की प्यास बुझाने के लिए नपा को जल सप्लाई में हलाली बांध के पानी पर ही आश्रित रहना पड़ता है। इस बांध से 35 किमी दूर नहरों के जरिए पानी बेतवा में और फिर नपा के कालीदास बांध में लाया जाता है। नहर से पानी आने में देरी भी होती है और नहरें कृषि क्षेत्र से जुड़ी होने से रास्ते में इस पानी का उपयोग खेतों में भी होने लगता है। इन सारी िस्थतियों के बीच पानी कालीदास डेम में देरी से आ पाता है और इसमें कई दिन लग जाते हैं। इसलिए दस दिन का पानी ही डेम में शेष बचने पर नपा ने हलाली बांध को दोबारा पानी देने के लिए पत्र लिखा है और अब पानी मिलने का इंतजार किया जा रहा है।
-------

पानी के लिए योजनाएं बनी पर काम नहीं हुए
हलाली बांध से पानी सुविधाजनक एवं शीघ्रता से सीधे बेतवा में आ सके इसके लिए पूर्व में हलाली से कालीदास डेम तक सीधे पाइप लाइन के जरिए पानी लाने की योजना बनी लेकिन इस महत्वपूर्ण योजना पर कार्य नहीं हो पाया। वहीं नर्मदा का जल बेतवा में लाने के लिए भी कार्ययोजना बनाई जाती रही लेकिन राजनीतिक रूप से प्रभावी माने जाने वाले इस शहर में इस योजना पर भी काम नहीं हो सका है। हालत यह कि शहर को सिंचाई के लिए बने हलाली बांध के पानी पर ही वर्षों से आश्रित रहना पड़ रहा है।

------------
हर दिन 2 करोड़ 30 लाख पानी की खपत

नपा से मिली जानकारी के अनुसार शहर में आबादी बढ़ने के साथ-साथ गर्मी में हर दिन 2 करोड़ 30 लाख पानी की खपत होती है। शहर में नल कनेक्शनों की संख्या 24 हजार होना बताई गई। जबकि कुछ क्षेत्रों में पाइप लाइन नहीं पहुंचने से क्षेत्र के रहवासियों को टैंकरों, हैंडपंपों व निजी जलस्रोतों के भरोसे रहना पड़ रहा है और इन िस्थ्तियों के बीच लोग रात में भी शासकीय हैंडपंपाें से पानी भरने के लिए मजबूर हो रहे हैं।
--------------

इन बस्तियों में पहुंच रहे टैंकर

शहर की विभिन्न बस्तियों में जलसंकट की िस्थति बन रही है। फलस्वरूप टीलाखेड़ी क्षेत्र में हर दिन करीब 20 टैंकर पानी नपा को पहुुंचाना पड़ रहा है। इसी तरह आचार्य कॉलोनी में 10 से 15 टैंकर पानी हर दिन पहुंच रहा है। इसके अलावा आचार्य कालोनी, आमवाली कॉलोनी, पूरनपुरा, सावरिया कॉलोनी क्षेत्र, राजाभैया कॉलोनी आदि क्षेत्रों में भी टैंकर पहुंचाना पड़ रहे है। जल व्यवस्था के कर्मचारी घनश्याम विश्वकर्मा ने बताया कि 3 टैंकर किराए से लिए गए हैं वहीं एक टैंकर नपा का है और इन चार टैंकरों से बस्तियों में जहां भी पानी संबंधी सूचना मिलती है वहां तुरंत टैंकर पहुंचाए जा रहे हैं।
-------------------

वर्जन
पिछले माह हलाली बांध से पानी लिया था जिसमें से अभी सिर्फ 1्0 दिन का पानी शेष है। हलाली बांध से पुन: पानी के लिए मांग पत्र भेजा गया है। समय पर यह पानी जाए इसके सतत प्रयास किए जा रहे हैं।

-वायएस भदौरिया, सब इंजीनियर, नपा
------
शहर की प्यास बुझाने सर्फ 10 दिन का पानी शेष, फिर मांगा हलाली से पानी...
शहर की प्यास बुझाने सर्फ 10 दिन का पानी शेष, फिर मांगा हलाली से पानी...

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: खतरे में MVA सरकार! समर्थन वापस लेने की तैयारी में शिंदे खेमा, राज्यपाल से जल्द करेंगे संपर्क?Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाबPM Modi in Germany for G7 Summit LIVE Updates: 'गरीब देश पर्यावरण को अधिक नुकसान पहुंचाते हैं, ये गलत धारणा है' : G-7 शिखर सम्मेलन में बोले पीएम मोदीयूक्रेन में भीड़भाड़ वाले शॉपिंग सेंटर पर रूस ने दागी मिसाइल, 2 की मौत, 20 घायल"BJP से डर रही", तीस्ता की गिरफ़्तारी पर पिनाराई विजयन ने कांग्रेस की चुप्पी पर साधा निशानाअंबानी परिवार की सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट कल करेगा सुनवाई, जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शिवसैनिकों से बोले आदित्य ठाकरे- हम दिल्ली में भी सत्ता में आएंगे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.