बिजली की बकाया राशि की वसूली के लिए तहसीलदारों ने बनाए नोटिस, पुलिसकर्मी कर रहे वितरित

जिलेभर में 180 करोड़ रुपए की करना है बिजली बकायादारों से वसूली
नोटिस के एक हफ्ते बाद होगी चल-अचल सम्पत्ति की कुर्की की कार्रवाई

विदिशा। विद्युत वितरण कंपनी को जिलेभर में बिजली के बकायादारों से करीब 1 अरब 80 करोड़ रुपए वसूलना है। तमाम प्रयासों के बावजूद वसूली नहीं हो पाने के कारण प्रशासन के निर्देश के बाद वर्षों से चले आ रहे इन बकायादारों को बिजली माफिया का नाम दिया गया है। वहीं वसूली के लिए तहसीलदारों द्वारा बनाए नोटिस पुलिसकर्मियों के माध्यम से बकायादारों तक पहुंचाए जा रहे हैं। जिसमें एक हफ्ते का समय दिया गया है। इस समयावधि में बकाया राशि जमा नहीं होने पर संबंधित की चल-अचल सम्पत्ति की कुर्की की कार्रवाई की जाएगी। प्रशासन द्वारा इस तरह का कदम पहली बार उठाए जाने से बकायादारों में भी हड़कंप की स्थिति देखने को मिल रही है।

विद्युत वितरण कंपनी कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार जिलेभर में कई बकायादारों द्वारा करीब एक साल या इससे अधिक समय से बिजली की बकाया राशि जमा नहीं की गई है। जिनको चिन्हित कर इनकी बकायदा सूची तैयार की गई है। वहीं सूची में ५० हजार रुपए से अधिक के बकायादार करीब २१०० है। इनमें कुछ बकायादार तो १० लाख रूपए तक के भी शामिल हैं और वर्षों से बिजली बिल जमा नहीं कर रहे थे या चोरी की बिजली का उपयोग कर रहे थे। जिसकी जानकारी कलेक्टर के संज्ञान में आने पर उन्होंने तहसीलदारों को ऐसे बकायादारों को नोटिस देने के निर्देश दिए थे। जिसके चलते विगत पांच दिन से जिलेभर में शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसे बकायादारों को नोटिस देने की कार्रवाई की जा रही है। इस दौरान पुलिसकर्मी स्वयं नोटिस दे रहे हैं या फिर उनकी मौजूदगी में विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारी-कर्मचारी संबंधितों को नोटिस दे रहे हैं।

पूर्व में भी दिए थे नोटिस
विद्युत वितरण कंपनी से मिली जानकारी के अनुसार बिजली के बकायादारों को पूर्व में भी कई बार नोटिस दिए गए, लेकिन बकाया राशि जमा नहीं करने के कारण प्रशासन द्वारा यह सख्त कदम उठाया गया है।

यह लिखा है नोटिस में
नोटिस में लिखा गया है कि बकायादार एक हफ्ते के भीतर विद्युत वितरण कंपनी की बकाया राशि जमा कर दें। अन्यथा भू-राजस्व संहिता 1958 की धारा 146, 147, 148 के तहत कार्रवाई की जाएगी। जिसके चलते बकाया राशि वसूली के लिए संबंधित के स्वामित्व की चल या अचल सम्पत्ति की कुर्की की कार्रवाई की जाएगी।

बकायादारों में हड़कंप
बकायादारों को तहसीलदार के नोटिस पुलिसकर्मियों से मिलने से बकायादारों में हड़कंप की स्थिति देखने को मिल रही है। कुछ बकायादार तो नोटिस मिलते ही राशि जमा करने भी विद्युत वितरण कंपनी के कार्यालय पहुंचने लगे हैं। जबकि कुछ बकाया राशि जमा करने का मन बना रहे हैं।

इनका कहना है
पुलिस के माध्यम से बिजली के बड़े बकायादारों को चिन्हित कर तहसीलदार द्वारा पुलिस के माध्यम से नोटिस पहुंचाए जा रहे हैं। जिन्हें एक हफ्ते का समय दिया जा रहा है। इस दौरान बकाया राशि जमा नहीं करने पर चल-अचल सम्पत्ति की कुर्की की कार्रवाई की जाएगी।
- अवधेश त्रिपाठी, डीई, विद्युत वितरण कंपनी, विदिशा
जिलेभर में करीब 180 करोड़ रूपए की बकाया राशि वसूली जाना है। जिनमें 50 हजार से अधिक के करीब २१०० बकायादारों को नोटिस देने की कार्रवाई की जा रही है।
- एसपी शर्मा, एसई, विद्युत वितरण कंपनी, विदिशा

Anil kumar soni Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned