पुजारियों ने की मुआवजा राशि दिलवाने की मांग, प्रशासन को सौंपा ब्राह्मणों ने ज्ञापन

पुजारियों ने की मुआवजा राशि दिलवाने की मांग, प्रशासन को सौंपा ब्राह्मणों ने ज्ञापन

By: दीपेश तिवारी

Published: 16 May 2018, 02:32 PM IST

विदिशा। जिले में मंदिरों की कृषि भूमि की बर्बाद हुई फसल की मुआवजा राशि मंदिर पुजारियों को दिलवाए जाने की मांग को लेकर मंदिर पुजारियों ने सनातन श्री हिंदू उत्सव समिति के बैनर तले प्रशासन को ज्ञापन सौंपा।
ज्ञापन में कहा गया कि मप्र सरकार ने जिले को सूखाग्रस्त घोषित करते हुए खरीफ फसल की क्षतिपूर्ति की करोड़ों रुपये की राशि किसानो को दी गई। लेकिन मन्दिरों की कृषिभूमि पर मुआवजा राशि वितरित नहीं कि जा रही है। जबकि विगत वर्षों में यह राशि वितरित की जाती थी। जो की अब नहीं की जा रही। हम चाहते कि हमें हमारा हक दिया जाएं। सरकार हमारे बारे में बिल्कुल भी नहीं सोच रही है। जो कि गलत है। जिस तरह सरकार अन्य लोगों के हितों का ध्यान रखती है। ठीक उसी तरह सरकार को हमारे हित कि बारे में सोचना चाहिए और इस विषय पर गंभीर विचार करना चाहिए। यहां हम सरकार से भीख नहीं मांग रहे है। बस अपना हक मांग रहे है।

हम अपने हक के लिए अपनी मुआवजा राशि के लिए सभी पुजारी विगत दो माह से अधिकारियों से संपर्क कर रहे हैं। लेकिन कुछ निराकरण नहीं निकला। जिससे मंदिर पुजारियों में रोष व्याप्त है। पुजारियों का कहना है कि यदि शासन स्तर से कोई परेशानी है तो उन्हें बताया जाए कि क्या परेशानी है। यदि कुछ दूसरा रास्ता निकल सकता है तो वो भी बताएं। जिससे वे शासन स्तर पर अपनी बात रख सकें। नहीं तो जिला प्रशासन मामले में हस्तक्षेप करते हुए पूर्वानुसार पटवारी रिपोर्ट के आधार पर संबंधित पुजारियों के खाते में मुआवजा राशि जमा करने के निर्देश जारी करें। ज्ञापन सौंपने वालों में समिति अध्यक्ष संजीव शर्मा, अतुल तिवारी, पंडित विनोद शास्त्री, नीलेश उपाध्याय, महेश तिवारी, देवेंद्र शर्मा, पंडित विजय दीक्षित सहित समिति सदस्य, धर्माधिकारी मंडल और परशुराम सेवा दल के सदस्य मौजूद रहे।

दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned