संविदा शिक्षक भर्ती में ऑनलाइन फार्म भरवाने के नाम पर लग रही बेरोजगारों को चपत

कई एमपी ऑनलाइन संचालक वसूल रहे 100 रूपए तक की अधिक राशि
जानकारी के अभाव में आवेदन अधिक राशि देने को मजबूर

अनिल सोनी विदिशा। इन दिनों संविदा शिक्षक वर्ग-3 के लिए ऑनलाइन आवेदन हो रहे हैं। लेकिन कई एमपी ऑनलाइन संचालक उम्मीदवारों से 50 से 100 रूपए तक की अधिक राशि लेकर उन्हें चपत लगाने का काम कर रहे हैं। जानकारी के अभाव में आवेदक राशि देने को मजबूर हैं।

जानकारी के अनुसार विदिशा शहर की ही बात करें, तो यहां करीब 40 से अधिक एमपी ऑनलाइन केंद्र संचालित हैं और जिलेभर में इनकी संख्या काफी है। विदिशा शहर में प्रत्येक एमपी ऑनलाइन पर औसतन प्रतिदिन कम से कम 30 से 40 आवेदक ऑनलाइन फार्म भरवाने पहुंच रहे हैं। इस प्रकार प्रतिदिन औसतन शहर में ही 1200 आवेदक संविदा शिक्षक का फार्म भर रहे हैं। एक जनवरी से ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरु हो गई थी। इस प्रकार 18 दिन में औसतन शहर से करीब 21 हजार 600 आवेदक ऑनलाइन फार्म भर चुके हैं। यदि प्रति उम्मीदवार से औसतन 50 से 100 रुपए अधिक लिए गए, तो औसतन 17 लाख 28 हजार रुपए की चपत उम्मीदवारों को लग चुकी है।

यह है फीस
संविदा शिक्षक भर्ती के लिए एससी-एसटी और ओबीसी के लिए एमपी ऑनलाइन से आवेदन करने की फीस ३६० रुपए है। जबकि सामान्य वर्ग के लिए ६६० रुपए है।
इस तरह लगा रहे चपत
कई एमपी ऑनलाइन पर जब आवेदक संविदा शिक्षक भर्ती के लिए ऑनलाइन आवेदन करने जाता है, तो तय फीस तो ली ही जाती है। लेकिन कई एमपी ऑनलाइन संचालक इससे अधिक फीस ले रहे हैं। वहीं फार्म भरने के शुल्क के नाम पर 50 से 100 रुपए की अतिरिक्त राशि ली जा रही है। वहीं फोटो या प्रोफाइल अपडेट के नाम पर फिर 50-50 रुपए और लिए जा रहे हैं। किसी आवेदक का यदि रोजगार कार्यालय का पंजीयन कार्ड नहीं है, तो 50 रुपए उसके नाम पर वसूले जा रहे हैं। इस प्रकार एक आवेदक से 50 रुपए से लेकर सवा सौ रुपए अतिरिक्त वसूले जा रहे हैं। पत्रिका ने शनिवार को रामद्वारा स्थित कुछ एमपी ऑनलाइन सेंटर पर आवेदक बनकर जानकारी ली, तो यही हालात सामने आए। यही स्थिति जिलेभर में बनी हुई है।

दिनभर किया सर्वर ने परेशान
एमपी ऑनलाइन पर शनिवार की सुबह से ही आवेदकों का पहुंचना शुरु हो गया था। लेकिन दोपहर करीब एक बजे से सर्वर ने परेशान करना शुरु किया, तो सर्वर दिनभर आता-जाता रहा। दोपहर को करीब दो घंटे तक सर्वर पूरी तरह बंद होने से कहीं से भी एक भी ऑनलाइन आवेदन नहीं हो सका। आवेदक रात तक एमपी ऑनलाइन के चक्कर लगाते देखे गए। वहीं कई एमपी ऑनलाइन संचालकों ने तो आवेदकों के दस्तावेज रख लिए थे और सर्वर आने पर ऑनलाइन आवेदन किया।

20 जनवरी है अंतिम तारीख
संविदा शिक्षक वर्ग-तीन की भर्ती के लिए एमपी ऑनलाइन से आवेदन करने की अंतिम तिथी 20 जनवरी है। जिसके चलते शनिवार को अधिकांश एमपी ऑनलाइन पर आवेदकों की काफी भीड़ रही।

नहीं कर रहे दूसरे काम
शहर के जिन एमपी ऑनलाइन केंद्रों पर संविदा शिक्षक की भर्ती के लिए सुबह से लेकर रात तक आवेदक आ रहे हैं उन केंद्रों के संचालकों ने तो संविदा शिक्षक भर्ती के आवेदकों के अलावा अन्य कार्य करना ही बंद कर दिया है और कोई न कोई बहाना कर उन्हें चलता कर देते हैं।

इनका कहना है
जिन एमपी ऑनलाइन केंद्रों पर संविदा शिक्षक भर्ती के आवेदन के दौरान उम्मीदवारों से अतिरिक्त राशि वसूली जा रही है, तो इसकी शिकायत भोपाल में एमपी ऑनलाइन के अधिकारियों से की जाएगी और इसकी जांच करवाकर कार्रवाई की जाएगी। जिससे बेरोजगार उम्मीदवारों को अतिरिक्त राशि नहीं देना पड़े।
- हजरत निजाम उद्दीन, जिला ई-गर्वनेंस अधिकारी, विदिशा

Anil kumar soni Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned