scriptWeakest Board results in four years, passing is less | चार साल में सबसे निचले स्तर पर गया बोर्ड का रिजल्ट, पास होने वाले तक घटे | Patrika News

चार साल में सबसे निचले स्तर पर गया बोर्ड का रिजल्ट, पास होने वाले तक घटे

- हाई स्कूल की सलोनी, हायर सेकंडरी में राज और साक्षी ने मारी बाजी

विदिशा

Published: April 30, 2022 11:01:01 am

विदिशा। मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल के हाई और हायरसेकंडरी बोर्ड परीक्षाओं में भले ही जिले की एक छात्रा दसवीं और दो विद्यार्थी बारहवीं में प्रदेश की मेरिट में स्थान पाने में सफल रहे हैं। परंतु पूरे रिजल्ट पर नजर डालें तो यह चार साल का सबसे कमजोर परीक्षा परिणाम है।

vidisha_result.jpg

पिछले साल कोरोना में सभी बच्चों को एक तरह से जनरल प्रमोशन दे दिया गया। वहीं यदि इसके दो साल पहले के नतीजे भी इस बार से बेहतर रहे। हाईस्कूल परीक्षा का परिणाम 51.45 प्रतिशत रहा है, जबकि 201819 में यह 63.74 तथा 201920 में 65.31 प्रतिशत था।

पिछले वर्ष सभी बच्चों को पास कर दिया गया था, इसलिए रिजल्ट भी सौ फीसदी था। पिछली परीक्षा 201920 की तुलना में इस बार का रिजल्ट 13.86 प्रतिशत कम रहा है। प्रदेश में 12वीं 33 और 10वीं में 40वां स्थान रहा।

रिजल्ट आया तो सपनों को मिले पंख : राज ने कहा, केवल एक ही सपना IAS बनना
हायरसेकंडरी परीक्षा में कला संकाय की प्रदेश की मेरिट में पांचवा स्थान पाने वाले राज रघुवंशी पूरे आत्मविश्वास से भरे हैं। वे कहते हैं कि जब से होश संभाला है, तब से ही आइएएस बनने का सपना है। सोशल साइंस में रुचि थी इसलिए कला संकाय चुना। अब डीयू या बीएचयू में प्रवेश लेना है और फिर यूपीएससी की तैयारी करेंगे। वे अपने लक्ष्य के प्रति पूरी ईमानदारी से मेहनत कर रहे हैं और इसकी सफल भी होंगे।

डॉक्टर नहीं, IPS बनना है सलोनी
हाईस्कूल की राज्य स्तरीय मेरिट में आठवां स्थान बनाने वाली गंजबासौदा की सलोनी भार्गव के पिता ईश्वरी भार्गव पुरेनियां में शिक्षक हैं। सलोनी बताती है कि उसका पसंदीदा विषय तो बायोलॉजी है, लेकिन मुझे डॉक्टर नहीं, आइपीएस अधिकारी बनना है। इसलिए अब बॉयलॉजी विषय से हायर सेकंडरी और फिर स्नातक कर आइपीएस बनना है।

किसान की बेटी साक्षी का सपना IAS बनना
हायरसेकंडरी परीक्षा में कला संकाय की प्रदेश की मेरिट में नवां स्थान हासिल करने वाली गंजबासौदा की साक्षी साहू बताती हैं कि उनके पिता हरिनारायण साहू 5 बीघा जमीन के छोटे किसान हैं, लेकिन पढ़ाई में कभी समझौता नहीं किया। अब यूपीएससी की तैयारी कर आइएएस अधिकारी बनने का सपना है। राह तो मिली है, मंजिल भी मिलेगी।

हायर सेकंडरी परीक्षा में हालत कमजोर
हायर सेकंडरी परीक्षा में हालत कमजोर रही है। 201819 में हायरसेकंडरी का रिजल्ट 80.84 प्रतिशत था, 201920 में 72.32 प्रतिशत था, जबकि इस बार यह घटकर 71.32 रह गया है, जो पिछले रिजल्ट से 1 प्रतिशत कम है। परीक्षा परिणामों में गिरावट को शिक्षा जगत के जानकार कोविड के साइड इफेक्ट मानकर चल रहे हैं। दसवीं बोर्ड परीक्षा में इस बार जिले के 17042 परीक्षार्थियों में से कुल 8768 ही उत्तीर्ण हुए, जबकि हायरसेकंडरी परीक्षा में 12950 परीक्षाथी शामिल हुए थे, जिनमें से 9281 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए।


जिले की टॉपर पांच किलोमीटर दूर बस से जाती थी स्कूल
सिरोंज नगर से करीब पांच किमी दूर बगरोदा गांव में रहने वाली अर्चना रघुवंशी ने हाईस्कूल परीक्षा में जिला टॉप किया है। किसान की इस बेटी ने 97.2 प्रतिशत अंक अर्जित किए। कभी कोई कोचिंग नहीं की। अपने गांव से स्कूल वह रोजाना बस से आतीजाती है। इसी तरह किसान देवेंद्र रघुवंशी की बेटी ऋषिका ने 96 प्रतिशत अंक अर्जित कर जिले में तीसरा स्थान पाया है। ये दोनों छात्राएं सरस्वती शिशु मंदिर में पढ़ती हैं।

अर्चना के छोटे भाई राज रघुवंशी को दसवीं में ही 85 प्रतिशत अंक मिले है। शुक्रवार को अर्चना के पिता रणधीर सिंह रघुवंशी को पता चला के दोनों बेटियां प्रथम श्रेणी में पास हुई हैं, कुछ ही देर बाद स्कूल से खबर आई कि अर्चना ने जिले में पहला स्थान पाया है तो पूरे घर में उत्सव सा मनने लगा। अर्चना का कहना है कि अब उनका लक्ष्य नीट एग्जाम पास कर अच्छा डॉक्टर बननी की मंशा है। बचपन से ही सपना है कि एक दिन उन्हें डॉक्टर बनना है और समाज की सेवा करना है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

गुजरातः चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, हार्दिक पटेल ने दिया इस्तीफा, BJP में शामिल होने की चर्चाआतंकियों के निशाने पर RSS मुख्यालय, रेकी करने वाले जैश ए मोहम्मद के कश्मीरी आतंकी को ATS ने किया गिरफ्तारआज चंडीगढ़ की ओर कूच करेंगे किसान, बॉर्डर पर ही बिताई रात, CM भगवंत बोले- 'खोखले नारे' नहीं तोड़ सकते संकल्पवाराणसी कोर्ट में आज ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर अहम बहस, जानें किन मुद्दों पर हो सकता है फैसलादिल्ली में आज एक बार फिर चलेगा बुलडोजर! सुरक्षा के लिए 400 पुलिसकर्मियों की मांगकांग्रेस नेता कार्ति चिंदबरम के करीबी को CBI ने किया गिरफ्तार, कल कई ठिकानों पर हुई थी छापेमारीIND vs SA सीरीज से पहले ICC ने इस युवा खिलाड़ी पर लगाया बैन, पढ़ें पूरा मामलाVIDEO: आग से एक साथ धधकी तीन गाडिय़ां, दहल गया मोहल्ला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.