'बर्बादी' देखकर सीने में उठा दर्द और खेत की मेड़ पर ही गिर गई महिला किसान

फसल की बर्बादी देखकर महिला किसान ने खेत पर ही दम तोड़ा, तीन दिन में दूसरी मौत..

By: Shailendra Sharma

Updated: 29 Sep 2020, 08:24 PM IST

विदिशा/सिरोंज. मध्यप्रदेश में बर्बाद फसल देखने के बाद एक और किसान की मौत हो गई। घटना विदिशा जिले के सिरोंज के हसनपुरकी गांव की है जहां 43 साल की महिला किसान शकुन बाई जब खेत पर अपनी फसल देखने पहुंची तो उसे वहीं पर दिल का दौरा पड़ गया। महिला किसान को आनफानन में सिरोंज के निजी अस्पताल लाया गया जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि महिला किसान के परिवार पर पहले से ही करीब डेढ़ लाख रुपए का कर्ज था।

मजदूरी से होता है पोषण, डेढ़ लाख का है कर्ज
महिला किसान शकुन बाई मंगलवार की सुबह करीब 10 बजे अपने खेत पर फसल देखने के लिए गई थी, फसल की बर्बादी देखकर उसे खेत की मेड़ पर ही दिल का दौरा पड़ गया और वो गिर पड़ी। आसपास के खेतों में मौजूद लोगों की नजर जब खेत में बेसुध पड़ी शकुनबाई पर पड़ी तो वो तुरंत उसे लेकर अस्पताल पहुंचे लेकिन तब तक शकुनबाई की मौत हो चुकी थी। शकुनबाई के पति पहलवान सिंह ने बताया कि उनके परिवार पर पहले ही डेढ़ लाख रुपए का कर्ज है और किसी तरह मेहनत मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण होता है। परिवार के कुछ सदस्य बीनागंज में मजदूरी करते हैं और वो अपनी दो बेटियों और पत्नी के साथ गांव में ही रहकर मजदूरी करते हैं। परिवार के पास तीन बीघा भूमि का शासकीय पट्टा है जिसमें फसल लगाई थी और उम्मीद थी कि फसल अगर अच्छी निकली तो कुछ कर्ज चुका देंगे।

 

photo_2020-09-29_19-41-51.jpg

बेटी की शादी को लेकर चिंतित थी मां
मृतका के पति पहलवान सिंह ने बताया कि लॉकडाउन से पहले बेटी की शादी की थी उसका कर्ज था। दूसरी बेटी भी 20 साल की है, उसकी भी शादी करना है, जिसे लेकर शकुन हमेशा परेशान रहती थी। फसल से कुछ आस थी लेकिन बारिश से पूरी फसल खराब हो गई। वह सुबह ही खेत पर गई थी लेकिन खराब फसल को देखकर अचानक घबरा गई और सदमे को सहन नही कर पाई। घटना के बारे में जानकारी लगते ही कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और चाचौड़ा विधायक लक्ष्मण सिंह ग्राम हसनपुर पहुंचे और पीड़ित परिवार से चर्चा कर हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया।

तीन दिन में दूसरी मौत
फसल की बर्बादी से तीन दिन में क्षेत्र में ये दूसरी मौत है। रविवार को भौंरिया के किसान गोवर्धन भावसार ने फसल बर्बाद होने के बाद आत्महत्या की थी, जिसकी जांच कलेक्टर ने शुरू कराई है। उसकी जांच रिपोर्ट आए इससे पहले ही क्षेत्र में मंगलवार को बर्बाद फसल से एक और जान चली गई।

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned