Weird Names Of Villages: दुनिया के कुछ अजीबो गरीब नाम वाले गांव से जुड़ी कहानियां

Weird Names Of Villages: विचित्रता और विविधता से भरी इस दुनिया में कुछ गांव के नाम और उनसे जुड़ी कहानियां बड़े अचरज में डालने वाली हैं।

By: Tanya Paliwal

Published: 10 Sep 2021, 11:05 AM IST

नई दिल्ली। Weird Names Of Villages: इस विश्व में बहुत सी ऐसी चीजें हैं जो अपनी खास वजह और उनसे जुड़ी मान्यताओं के कारण सुर्खियां बटोरती है। आपने खान-पान, रहन-सहन, विचित्र पेड़-पौधे, जंतुओं आदि से संबंधित अजब गजब रोचक तथ्य सुने हो सकते हैं। परंतु आज हम आपको दुनिया के कुछ ऐसे गांव के बारे में बताने जा रहे हैं जो अपनी अजीबोगरीब नामों के लिए प्रसिद्ध हैं:

1. होकसे गांव (एक किडनी वाला गांव)
इस गांव के अटपटे नाम को सुनकर आपको हैरानी होने के साथ आपका मन जिज्ञासा से भी भर गया होगा। दरअसल यह विचित्र नाम वाला गांव नेपाल में स्थित है। इसे होकसे गांव के नाम से भी जाना जाता है। आपको बता दें कि एक किडनी वाला गांव का यह नाम यहां के लोगों के कारण ही पड़ा है क्योंकि यहां रहने वाले लोगों को एक किडनी पर ही गुजारा करना पड़ता है। इसकी वजह जानकर आप शायद आश्चर्य में पड़ जाएंगे कि यहां के लोग अपनी एक किडनी बेचकर जीवन यापन करने को मजबूर हैं। हमारे शरीर के जिस अंग की कीमत दुनिया में काफी ज्यादा है, वहीं दूसरी तरफ यह अंग होकसे गांव में महज 2000 में बिकता है।

one_kidney_village.jpg

2. ड्वार्फ विलेज (बोनों का गांव)
इस गांव का यह नाम सुनकर आपने शायद जरूर सोचा होगा कि ऐसा भी कोई नाम होता है भला। वास्तव में यह गांव चाइना में स्थित है, जहां पर करीब सभी लोग बोने हैं। इसी कारण इस गांव का नाम बोनों का गांव पड़ गया। बोनों का गांव से जुड़ी अजीब बात यह है कि यहां जब बच्चे 5 से 6 साल के होते हैं तो, उनका शरीर विकास करना अथवा बढ़ना बंद कर देता है। इसके पीछे की कहानी तो और भी अजीब तथा आश्चर्यजनक है। लोगों का कहना है कि एक दफा वांग नाम के एक व्यक्ति को अजीब पैरों वाला एक काला कछुआ मिला। उसका ऐसा रंग रूप देखकर गांव वाले दुविधा में पड़ गए कि इसे पकाकर खाया जाए या फिर छोड़ दिया जाए। परंतु अंत में उन्होंने उसे पका कर खा ही लिया। जिसके परिणाम स्वरूप उनके आगे आने वाली पीढ़ियों में बच्चे बोने पैदा होने लगे।

dwarf.jpg

यह भी पढ़ें:

3. बिना सड़क वाला गांव
इस गांव का नाम सुनकर आपको लगा होगा कि क्या ऐसी कभी कोई जगह हो सकती है, जहां आने-जाने के लिए सड़क की ना हो। लेकिन नीदरलैंड का गिएथूर्न गांव अपनी सुंदरता के साथ ही एक अजीब वजह से भी जाना जाता है। गिएथूर्न गांव में एक भी सड़क ना होने के कारण यहां न तो किसी के पास कोई मोटरगाड़ी अथवा गाड़ी दिखती है और न ही अन्य कोई वाहन। बिना सड़क वाला गांव के नाम के पीछे की वजह बड़ी ही दिलचस्प है। दरअसल यह गांव पानी के ऊपर बसा हुआ है। इसलिए यहां के निवासी अपने आवागमन के लिए नावों का सहारा लेते हैं। इस रमणीय नजारे को देखने के लिए इस अनोखे गांव में बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं।

 

without_road.jpg

4. नीला गांव
क्या आप कभी कल्पना कर सकते हैं ऐसे किसी गांव या शहर की जो पूरा एक ही रंग में रंगा हो? अगर नहीं तो हम आपको बता दें कि वास्तव में स्पेन में ऐसा गांव है जो पूरा एक ही रंग से रंगा है। स्पेन के इस छोटे से गांव का नाम जुजकर है। जो पूरा नीले रंग से रंगा हुआ है। इस गांव के नीले रंग के बारे में कहा जाता है कि यहां 'द स्मर्फ 3 डी' नामक फिल्म की शूटिंग के दौरान इस रंग से रंगा गया था। बाद में जब प्रोडक्‍शन टीम ने गांव वालों को अपने मर्जी का रंग लगाने के लिए कहा तो गांव वालों ने नीले रंग को बदलने की बजाय इसी रंग को अपना लिया। उसी समय से इसी गांव को नीला गांव कहा जाने लगा।

juzcar_village.jpg
Tanya Paliwal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned