असम के इस गांव में पक्षी कर लेते हैं आत्महत्या, वैज्ञानिकों के लिए बना हुआ है रहस्य

बता दें कि ये गांव खूबसूरती का संगम है लेकिन यहां का रहस्य जानने के बाद आपके होश उड़ जाएंगे।

By: Vineet Singh

Updated: 18 Dec 2018, 03:23 PM IST

नई दिल्ली: वैसे तो भारत में कई सारी ऐसी जगहें हैं जिनसे कोई रहस्य जुड़ा रहता है लेकिन इन सब में से असम के एक छोटे से गांव का रहस्य आज भी वैज्ञानिकों के लिए एक पहेली बना हुआ है। आपने अक्सर इंसानों को आत्महत्या करते हुए सुना होगा लेकिन क्या आप जानते हैं कि पक्षी भी आत्महत्या करते हैं और अगर आपको इस बात पर विश्वास नहीं हो रहा है तो आपको असम के इस गांव में जरूर आना चाहिए। बता दें कि ये गांव खूबसूरती का संगम है लेकिन यहां का रहस्य जानने के बाद आपके होश उड़ जाएंगे।

जिस गाँव की हम बात कर रहे हैं उसका नाम जतिंगा है। यहां साल में एक बार एक साथ कई पक्षी आत्महत्या करने आते हैं। इस बारे में आज तक ठीक तरीके से कोई भी नहीं बता पाया है कि आखिर यहां ऐसा क्या है जिसकी वजह से लोग यहां पर आत्महत्या करने आते हैं लेकिन फिर भी यह रहस्य लोगों को डराता रहता है।

दरअसल जतिंगा असम के उत्तरी काछार पहाड़ी में स्थित एक बेहद ही सुंदर घाटी है। यह इतना खूबसूरत स्थान है कि दूर-दूर से लोग यहां पर घूमने आते हैं। इसके बाद जब लोगों को यह पता चला कि सैकड़ों की तादात में पक्षी यहां पर आत्महत्या कर लेते हैं तब से ये स्थान लोगों को अपनी तरफ और ज्यादा आकर्षित करने लगा। बता दें कि वैज्ञानिकों ने इस जगह को लेकर सबकुछ जानने की कोशिश भी की है लेकिन इसके बावजूद आज तक यह नहीं पता चल सका है कि आखिर पक्षी यहां पर आकर आत्महत्या क्यों कर लेते हैं। मानसून के दौरान कोहरे वाले महीनों में यहां पक्षियों की आत्महत्या की घटनाएं देखने को मिलती है, लेकिन कभी-कभी अमावस में भी कोहरे के दौरान पक्षियों के आत्महत्या की घटनाएं दिख जाती हैं। ये घटना शाम को लगभग 7 बजे से लेकर 10 बजे के बीच का होती है।

Vineet Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned