इस पुल को पैदल पार करने की है मनाही, खास वजह से पुलिस की रहती हमेशा लोगों पर निगरानी

चंबल नदी पर बने इस पुल को इंसान अपने पैरों पर चलकर खुद पार नहीं कर सकता। यदि किसी ने ऐसा किया तो पुलिस उसे फौरन पकड़ लेती है।

By:

Published: 16 May 2018, 09:40 AM IST

हम में से ज्यादातर लोग छोटी-मोटी दूरी खुद ही पैदल चलकर तय कर लेते हैं। इससे पैसे भी बच जाते हैं और पैदल चलने से स्वास्थ्य भी ठीक रहता है। सड़कों पर,गली या चौराहे पर या फिर किसी भी पुल पर हमने इंसानों को पैदल चलते देखा है। ऐसा देखना आम भी है लेकिन देश में एक ऐसा पुल है जहां पैदल चलने की मनाही है। इस पुल पर यदि गलती से भी कोई पैदल चलने लगता है तो उसे पुलिस पकड़ लेती है। सुनने में भले ही ये बात अजीब लगे कि आखिर एक सार्वजनिक स्थान पर इंसान को पैदल जाने की अनुमति क्यों नहीं है?

आइए हम इस अनोखे और डरावने पुल के बारे में पूरी बात बताते हैं। हम यहां बात कर रहे हैं राजस्थान के बारे में। राजस्थान के धौलपुर जिले में ये पुल स्थित है। चंबल नदी पर बने इस पुल को कोई भी इंसान अपने पैरों पर चलकर खुद पार नहीं कर सकता। यदि किसी ने ऐसा किया तो पुलिस उसे फौरन पकड़ लेती है। यदि जरूरत पड़े तो पुलिस व्यक्ति को किसी वाहन में बैठाकर उसे उस पुल को पार करने की इजाजत देती है।

Chambal river bridge

बता दें ऐसा पुलिस इंसानों की भलाई के लिए ही करती है क्योंकि चंबल नदी के ऊपर जिस स्थान पर ये पुल बना है वहां नदी काफी गहरी है और तो और वहां मगरमच्छ भी काफी ज्यादा मात्रा में पाई जाती है। ये पुल कितना डरावना है इसका पता हमें इस बात से चलता है कि यहां कई लोग इस पुल से कूदकर अपनी जान दे दी है।

नदी में मगरमच्छ के होने से लाश का पता लगाना भी मुश्किल हो जाता है। हांलाकि पुलिस ने नदी में जाल बिछाकर रखा है ताकि यदि कोई गलती से भी गिर जाए तो उसकी बॉडी वापस मिल सकें लेकिन मगरमच्छों के चलते हड्डियों तक का निशान मिल पाना मुश्किल होता है।

Chambal river bridge

नदी में गिरे किसी इंसान के लाश को ढूंढ़ना वाकई में काफी कठिन काम है और इसके लिए पुलिस को काफी जद्दोजहत करनी पड़ती है। इन समस्याओं से बचने के लिए पुलिस ने इंसानों के पैदल चलने पर ही रोक लगा दी है। यहां पुल के पास एक चौकी बनाई गई है ताकि पुलिस हर वक्त लोगों पर अपनी नजर रख सकें।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned