57,000 रुपये में बिक रहा है यह छोटा सा पैकेट, खरीदने के लिए लंबी कतारों में इस वजह से खड़े हैं लोग

57,000 रुपये में बिक रहा है यह छोटा सा पैकेट, खरीदने के लिए लंबी कतारों में इस वजह से खड़े हैं लोग

| Publish: Feb, 22 2019 10:50:17 AM (IST) | Updated: Feb, 22 2019 11:54:21 AM (IST) अजब गजब

  • विदेशी ब्रांड के महंगे कंडोम को खरीद रहे हैं लोग
  • पानी की तरह बहा रहे हैं पैसा
  • कतारों में लगकर कर रहे हैं इनकी खरीदारी

नई दिल्ली। दक्षिण अमरीका महाद्वीप में स्थित देश वेनेजुएला काफी लंबे समय से आर्थिक संकट से गुजर रहा है। ऐसे में वहां खाने-पीने की चीज को लेकर लोग तरस रहे हैं। यहां लोग हर रोज तमाम असुविधाओं का सामना कर रहे हैं। स्थिति तो अब ऐसी है कि शारीरिक संबंध बनाने से पहले भी लोग हजार बार सोच रहे हैं। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर ऐसा क्यों? क्या वेनेजुएला में शारीरिक संबंध बनाने पर कोई पाबंदी है? क्या वर्तमान समय में इस पर कोई रोक है? बता दें कि ऐसा कुछ भी नहीं है। यहां एक विशेष कारण के चलते यौन संबंध बनाना भी काफी सोच विचार का काम है।

 

Queue in  <a href=Venezuela for condom" src="https://new-img.patrika.com/upload/2019/02/22/36_4172333-m.jpg">

दरअसल, वेनेजुएला एक ऐसा देश है जहां गर्भपात करवाना गैरकानूनी है। अगर कोई गलती से भी ऐसा करते हुए पाया जाता है तो उसे कठिन दंड का भुगतान करना पड़ता है। इसलिए यहां के निवासी ऐसा करने के बारे में सोचते भी नहीं है। गर्भपात की स्थिति न आए इस वजह से वेनेजुएला में नौजवान सुरक्षित तरीके से यौन संबंध बनाते हैं, लेकिन अब इसके लिए भी इन्हें काफी सोचना पड़ रहा है।

 

Queue in Venezuela for condom

मौजूदा समय में यहां गर्भनिरोधक पिल्स या कंडोम की कीमत सोने के समान है। एक पैकेट कंडोम खरीदने के लिए 755 से 800 यूएस डॉलर खर्च करना पड़ सकता है, इंडियन करेंसी में इनकी कीमत लगभग 57,000 रुपये है। इतना महंगा होने के बावजूद भी लोग कतारों में लगकर इन्हें खरीद रहे हैं। इन विदेशी ब्रांड के महंगे कंडोम को खरीदने के लिए लोग पानी की तरह पैसा खर्च करने को मजबूर है।

 

Queue in Venezuela for condom

मार्केट में लोकल ब्रांड्स के भी कंडोम और पिल्स उपलब्ध है, लेकिन ये पूरी तरह से सुरक्षित नहीं होते हैं। ऐसे में गर्भधारण का डर बना ही रहता है। इन्हीं सब कारणों के चलते नौजवान एक पैकेट कंडोम के लिए 50 से 60 हजार तक खर्च कर रहे हैं।

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned