मरने की हालत में पहुंच गया था मरीज, डॉक्टरों ने शराब पिलाकर बचाई जान

जान बचाने के लिए डॉक्टरों ने 15 कैन बीयर उसके पेट में पंप की।
यह शख्स एल्कोहॉल प्वॉइजनिंग का शिकार था।

By: Shaitan Prajapat

Updated: 14 Jan 2021, 01:34 PM IST

नई दिल्ली। अभी तक आपने सुना होगा कि अल्कोहल पीना स्वास्थ्य के लिए बहुत खराब है। शराब पीने से शरीर में लीवर सहित कई प्रकार की बीमारियों हो जाती है। ज्यादा शराब पीने से कई बार लोगों की मौत भी हो जाती है। डॉक्टर हमेशा अल्कोहल का सेवन करने से मना करते है। लेकिन वियतनाम से एक अनोखा मामला सामने आया है। जिसके बारे में जानकर सभी चौंक गए। यहां पर डॉक्टर्स की एक टीम ने मरने वाले इंसान को बीयर पिलाकर नई जिंदगी दी है। आपको यह जानकर ताज्जुब होगी कि एक शख्स की जान बचाने के लिए डॉक्टरों ने 15 कैन बीयर पिलाए।

बीयर पिलाकर दी नई जिंदगी
खबरों के अनुसार , इस व्यक्ति का नाम गुयेन वैट हाट है और उसकी उम्र 48 साल बताई जा रही है। यह शख्स एल्कोहॉल प्वॉइजनिंग का शिकार था। जिसके बाद उसे इलाज के लिए डॉक्टर्स के पास लाया गया। डॉक्टरों के इलाज के इस तरीके के बाद हैरानी इस बात की भी है कि क्या ऐसा हो सकता है। बीयर किसी की जान बचा भी सकती है। आपको बता दें कि बीयर में इथेनॉल पाया जाता है। इथेनॉल, मेथेनॉल को कम करता है। बीयर से लीवर साफ होता है और इंफेक्शन कम होता है। इसलिए डॉक्टर्स ने एक-एक घंटे में बीयर के कैन पंप करना शुरू किया और उन्होंने मरीज को लगभग 15 कैन पंप किए। जिसके बाद मरीज को होश आया।

 

यह भी पढ़े :— 200 से भी ज्यादा शेरों के साथ रहता है ये परिवार, जीता है ऐसी जिंदगी

अस्पताल से किया डिस्चार्ज
आईसीयू विभाग के मुख्य चिकित्सक ने कहा कि उनके रक्त में मेथनॉल मिथाइल अल्कोहल का स्तर निर्धारित सीमा से 1.119 गुना अधिक था। उसके शरीर में मौजूद मेथनॉल के ऑक्सीकरण होने के बाद उसे फॉर्मलाडिहाइड में बदल दिया गया। यह फॉर्मिक एसिड का उत्पादन करता है, जिससे रोगी को चक्कर आने लगते हैं। हालांकि समय रहते डॉक्टरों ने इस अनोखे उपचार से गुयेन की जान बचा ली है। गुयेन को फिलहाल अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है।

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned