धूप में पौधे बेचने वाले बुजुर्ग के लिए मसीहा बना ये बॉलीवुड स्टार, चंद घंटों में लोगों ने ऐसे बदल दी किस्मत

बेंगलुरु के एक गरीब बुजुर्ग के लिए भगवान का आशीर्वाद बना सोशल मीडिया। अभिनेता रणदीप हुड्डा के ट्वीट ने दिलाई पहचान और धूप से बचने और बैठने के लिए कुर्सी टेबल....

By: भूप सिंह

Published: 28 Oct 2020, 04:27 PM IST

कहते हैं ना किस्मत का कोई भरोसा नहीं, कब पलटा खा जाए। ऐसा ही कुछ हुआ धूप में सड़क किनारे पौधे बेचने वाले एक गरीब बुजुर्ग शख्स के साथ। भले ही वो अमिर ना बना हो, लेकिन एक बॉलीवुड अभिनेता की वजह से उन्हें धूप से बचने के लिए छतरी मिली और सोशल मीडिया पर ऐसे वायरल हुए कि उन्हें हर कोई पहचाने लगा है। यह बात है बेंगलुरु (Bengaluru) की। दरअसल, एक गरीब बुजुर्ग बेंगलुुरु में सड़क किनारे धूप में पौधे बेच रहा था। धूप से बचने के लिए एक हाथ में छतरी लिए हुए थे। एक ट्विटर यूजर्स शुभम जैन ने उनकी दो तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर कर मदद की और अपील करते हुए लिखा, 'रेवना सिद्धप्पा (Revana Siddappa) से मिलिए, एक बूढ़ा व्यक्ति, जो कर्नाटक के सराकी सिग्नल के पास कनकपुरा रोड पर पौधे बेचता है। इन पौधों की कीमत 10 से 30 रुपए तक की है।'

रणदीप हुड्डा ने दिखाई दरियादिली
गरीब बुजुर्ग की ये तस्वीरें सोशल मीडिया पर जंगल में आग की तरह वायरल हो गईं और हजारों लाइक्स मिले। इसके बाद हरियाणा के दिलदार बॉलीवुड अभिनेता रणदीप हु्ड्डा (Randeep Hooda) ने भी रिएक्शन देते हुए इस बुजुर्ग का सही और सटीक पता पूछा। इसके बाद हुड्डा ने अपने ट्विटर फैंस को इस बुजुर्ग व्यक्ति की मदद करने का आग्रह किया। उन्होंने बुजुर्ग शख्स की दुकान का पूरा पता डालते हुए लिखा,'अरे बेंगलुरु वालों, जरा प्यार दिखाओ।' अभिनेता माधवन और आरजे आलोक जैसी कई अन्य हस्तियों ने भी ट्वीट को साझा किया।

फटाफट लग गईं कुर्सी और मेज
रणदीप हुड्डा के मदद की अपील और बुजुर्ग की तस्वीरों ने लोगों का दिल छू लिया। कई लोगों ने सड़क किनारे की दुकान का दौरा करने और पौधों को खरीदने का वादा किया। तभी कनकपुरा रोड के चेंजमेकर्स एनजीओ और रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशनों का एक महासंघ- सिद्दप्पा के लिए एक केनॉपी और पौधे लेकर मौके पर पहुंचा, ताकि वो और बेच सकें। उन्होंने फटाफट सिद्दप्पा के लिए बड़ी छतरी का इंतजाम किया। साथ ही उनके लिए एक मेज और कुर्सी भी लगाई, जिसे माइक्रोब्लॉंगिंग प्लेटफॉर्म पर व्यापक रूप से सराहा गया।

 

रोजगार पैदा कर सकता है सोशल मीडिया
एक ट्विटर यूजर ने लिखा,'सोशल मीडिया एक अद्भुत काम कर रहा है। अगर कुछ साल तक ऐसा ही चलता रहा तो यह भारत सरकार की तुलना में अधिक रोजगार पैदा कर सकता है।'

Show More
भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned