13 साल से बिना छुट्टी लिए लगातार काम कर रहा है ये शख्स, अवॉर्ड लेने की बारी आई तो...

13 साल से बिना छुट्टी लिए लगातार काम कर रहा है ये शख्स, अवॉर्ड लेने की बारी आई तो...

Sunil Chaurasia | Publish: Jun, 15 2018 04:44:19 PM (IST) | Updated: Jun, 15 2018 04:57:22 PM (IST) अजब गजब

जोगिंदर सिंह ने अपने 13 साल के कार्यकाल में एक भी छुट्टी नहीं ली।

नई दिल्ली। अगर इस दुनिया में कामचोरों की कोई नहीं है तो यहां कर्मठ लोगों की भी कोई कमी नहीं है। इसी सिलसिले में आज हम आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसने अपने काम को ही अपनी पूरी दुनिया मान ली। दरअसल, हिमाचल प्रदेश रोडवेज़ के लिए काम करने वाले इस शख्स ने काम ही कुछ ऐसा कर दिया है कि पूरे देश में इसकी चर्चा हो रही है। हिमाचल पथ परिवहन निगम में कंडक्टर के रूप में काम करने वाले इस शख्स का नाम जोगिंदर सिंह (जोगी) है। जिसने अपने 13 साल के कार्यकाल में एक भी छुट्टी नहीं ली।

सिरमौर कला संगम नाम की एक संस्था जोगी के काम के प्रति लगन के मद्देनज़र उन्हें सम्मानित करने जा रही है। खबरों के मुताबिक जोगी को यह सम्मान आने वाली 28 जून को ददाहू में दिया जाएगा। लेकिन यहां एक हैरान कर देने वाली बात ये भी है कि जोगी खुद को मिलने वाले इस डॉ. यशवंत सिंह परमार पुरस्कार को लेने भी न जाएं। जोगी का कहना है कि यदि वे सम्मान लेने पहुंचते हैं तो उन्हें छुट्टे करनी पड़ेगी और वे छुट्टी लेने के मूड में बिल्कुल भी नहीं है।

जोगी ने बताया कि उन्हें मिलने वाला डॉ. यशवंत सिंह परमार पुरस्कार लेने के लिए उनके पिता ददाहू जाएंगे। जोगी ने साल 2005 में 4 जून को हिमाचल रोडवेज के लिए नाहन डिपो में नौकरी शुरु की थी। जिसके बाद से उन्होंने आज तक एक भी छुट्टी नहीं ली। जोगी के बारे में कहा जाता है कि वे एक नेक इंसान तो हैं ही साथ ही वे अपने काम के प्रति ईमानदार, और जुझारू भी हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि कई बार जोगी त्योहारों के समय भी ड्यूटी पर ही रहते हैं।

आपको जानकर गर्व होगा कि जोगी ने रविवार को मिलने वाली छुट्टी भी नहीं ली, जिससे उनके पास कुल 303 रविवारीय छुट्टियां इकट्ठी हो गईं, जिसे उन्होंने रोडवेज़ को दान के रूप में दे दिया। वर्तमान में उनके पास अभी भी 550 रविवारीय छुट्टियां छुट्टियां हैं। जोगी के काम के प्रति उत्साहित रोडवेज़ ने साल 2011 में उन्हें सम्मानित किया था।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned