रावण संहिता के अनुसार जिन जगहों पर दिखाई दे ये चिन्ह वहां गड़ा होता है खजाना

यह बेहद ही चौंकाने वाली बात है लेकिन आज हम आपको इससे जुड़ी एक ऐसी बात बताने जा रहे हैं जिसके बारे में जानकार आप चौंक जाएंगे और अगर आपकी किस्मत अच्छी रहे तो आप मालामाल भी हो सकते हैं।

By: Vineet Singh

Published: 18 Dec 2018, 12:47 PM IST

नई दिल्ली: प्राचीनकाल में ऐसा कहा जाता था कि भारत में लोगों के पास अथाह सोना होता था और लोग अच्छे खासे रईस होते थे, यहां तक कि जब अंग्रेजों ने भी भारत पर हमला किया तब भी भारत को सोने की चिड़िया कहा जाता था। अंग्रेजों द्वारा भारत को लूटे जाने के बाद आज भी भारत के पास टनों सोना है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि प्राचीनकाल में जब लोगों के पास बैंक और लॉकर नहीं हुआ करते थे तब वो अपने सोने को कहां रखते होंगे। यह बेहद ही चौंकाने वाली बात है लेकिन आज हम आपको इससे जुड़ी एक ऐसी बात बताने जा रहे हैं जिसके बारे में जानकार आप चौंक जाएंगे और अगर आपकी किस्मत अच्छी रहे तो आप मालामाल भी हो सकते हैं।

आपको बता दें कि पुराने समय में जब लोगों के घर में काफी सोना होता था तब वो लोग उसे छिपाने के लिए मटके में भरकर जमीन में गाड़ दिया करते थे जिससे वो किसी की नजर में ना आ सके और जब जरूरत होती थी तब उसे जमीन से निकाल लिया जाता था। कई बार ये सोना वहीं गड़ा रह जाता था और लोग उसे निकलवाते भी नहीं थे ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि कैसे इस गड़े हुए सोने के बारे में पता लगाया जा सकता है।

रावण संहिता और वराह संहिता के अनुसार जिस किसी को भी गड़ा हुआ सोना मिलना लिखा होता है उसे सपने में यह गड़ा हुआ धन दिखाई देने लगता है। बता दें कि ऐसा कहा जाता है कि जिस स्थान पर धन गड़ा हुआ है वहां सफेद नाग दिखाई देगा। ऐसी संभावना होती है कि आपके पितरों ने सफेद नाग के रुप में दर्शन देकर उस जगह का पता बताया है जहां उन्होने आपके लिए धन गाड़ कर रखा होगा। कहते हैं कि ये सफेद नाग इस खजाने की रक्षा करते हैं।

कहते हैं कि जिस भूमि के आसपास जल स्रोत नहीं होने पर भी वह भूमि नम दिखाई दे और साथ ही आसपास किसी काले सर्प के होने की निशानी दिखाई दे तो निश्चित ही वहां पर खजाना गड़ा हो सकता है। इसके अलावा जिस स्थान की मिट्टी में कमल के फूल जैसी सुगंध आती है उसके बारे में भी कहा जाता है कि वहां पर धन गड़ा हो सकता है। अब हम नहीं जानते कि इन बातों में कितनी सच्चाई है लेकिन ये बातें हमने काफी समय से किस्से और कहानियों में सुनी हुई है।

Vineet Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned