OMG: शख्स ने Cigarette छोड़कर बचाए लाखों रूपए, अब इन्हीं से खड़ा कर दिया दो मंजिला मकान!

स्मोकिंग (Smoking) जल्द ही लोगों की लाइफ का हिस्सा बन जाती है और उन्हें पता भी नहीं चलता। लोग सिगरेट के चक्कर में स्वास्थ्य के साथ-साथ अपनी जमा पूँजी भी गवां देते हैं। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि केरल (Keral) के एक शख्स ने सिगरेट (Cigarette ) छोड़कर लाखों रुपये की बचत कर ली। अब वे इस पैसे से अपना घर बनवा रहे हैं।

 

By: Vivhav Shukla

Published: 06 Aug 2020, 12:40 AM IST

नई दिल्ली। हर सिगरेट (Cigarette ) पे लिखा होता है ‘smoking is injurious to health’ यानी धूम्रपान स्वास्थ के लिए खतरनाक है, इससे आपकी मौत भी हो सकती है। इतनी साफ चेतावनी के बाद भी इसी पीने पाने वाले इसे पीते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि इसकी लत बहुत बुरी है।

ये है 'नरक का दरवाजा', जहां जानें वाला कभी नहीं आता लौटकर कर वापस!

स्मोकिंग (Smoking) जल्द ही लोगों की लाइफ का हिस्सा बन जाती है और उन्हें पता भी नहीं चलता। लोग सिगरेट के चक्कर में स्वास्थ्य के साथ-साथ अपनी जमा पूँजी भी गवां देते हैं। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि केरल (Keral) के एक शख्स ने सिगरेट (Cigarette ) छोड़कर लाखों रुपये की बचत कर ली। अब वे इस पैसे से अपना घर बनवा रहे हैं।

OMG: 3 साल का बच्चा और 7 साल बच्ची चढ़ गए 10,000Ft ऊंचा पहाड़!

सुनने में ये आपको अजीब जरूर लग रहा होगा लेकिन से पूरी तरह से सच है। केरल के Kozhikode में रहने वाले इस शख्स का नाम वेणुगोपाल नायर (Venugopal Nair) है। 75 साल के वेणुगोपाल सालों पहले एक चेन स्मोकर थे। वे एक दिन में डेढ़ से दो पैकेट सिगरेट(Cigarette ) पी जाते थे। लेकिन 67 साल की उम्र में उनके सीने में दर्द होने लगा, जिसके बाद उन्होंने स्मोकिंग छोड़ दी और इन 8 सालों में उन्होंनो 5 लाख से अधिक रूपए सेव कर लिए।

जो सबके नाम बदलते हैं PM Modi ने उनका ही नाम बदल दिया!

मीडिया से बात करते हुए वेणुगोपाल (Venugopal Nair) ने बताया वे एक दिन में 50 से 150 तक की सिगरेट पी जाते थे। उन्होंने बताया कि वे 14 साल की उम्र से ही स्मोकिंग कर रहे थे। लेकिन बीते 8 सालों में उन्होंने एक भी सिगरेट को हाथ नहीं लगाया। इसी से उन्होंने 5 लाख रुपये बचा लिए।

 

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned